पोकरण फायरिंग रेंज में परीक्षण के दौरान तीन ड्रोन दुर्घटनाग्रस्त

जैसलमेर। राजस्थान में जैसलमेर के पोकरण फायरिंग रेंज में गुरुवार को परीक्षण के दौरान तीन ड्रोन दुर्घटनाग्रस्त हो गए।

सूत्रों ने बताया कि देश में प्राकृतिक आपदाएं बाढ़, भूकंप आदि के लिए तुरन्त राहत और मदद पहुंचाने के लिए भारतीय वायुसेना के लिए निजी क्षेत्र से ड्रोन खरीदे जाने की प्रक्रिया जारी है, इसके तहत पोकरण फायरिंग रेंज में विभिन्न निजी कंपनियों के ड्रोन के परीक्षण किए जा रहे हैं। इसके चलते एक निजी कंपनी के तीन ड्रोन परीक्षण उड़ान भरने के बाद तकनीकी कमी के चलते अनियंत्रित होकर दूरदराज के खेतों में दुर्घटनाग्रस्त हो गए।

सूत्रों के अनुसार इनमें से एक ड्रोन को पुलिस एवं वायुसेना ने खोज लिया जबकि दो की तलाश की जा रही है। इसके लिए ग्रामीणों से अनुरोध किया गया है कि कोई वस्तु खेत में मिले नजदीकी पुलिस स्टेशन को सूचना दे।

पुलिस अधीक्षक किरण केंग ने बताया कि पोकरण फायरिंग रेंज में कुछ ड्रोन के परीक्षण किए रहे थे, जिनमें से तीन ड्रोन के लापता होने की जानकारी भारतीय वायुसेना द्वारा पुलिस कंट्रोल रुम को दी गई। इस संबंध में पुलिस एवं वायुसेना ने तलाश अभियान शुरु किया। इस दौरान एक ड्रोन जैसलमेर के नाचना पुलिस थाना क्षेत्र में हरियार गांव के पास 95 आरडी पर बरामद हुआ जबकि दो अन्य के सिगनल मोहनगढ़ थाना क्षेत्र में मिल रहे हैं।