बाफ्टा में ‘थ्री बिलबोर्ड्स..’ छाई, ‘टाइम्स अप’ अभियान का दिखा असर

Time's Up Descends on Baftas as 'Three Billboards' Wins 5 Awards
Time’s Up Descends on Baftas as ‘Three Billboards’ Wins 5 Awards

लंदन। 71वें बाफ्टा पुरस्कारों में जहां फिल्म ‘थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिसौरी’ ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म सहित पांच पुरस्कार जीते, वहीं समारोह में यौन उत्पीड़न के खिलाफ चलाए गए अभियान ‘टाइम्स अप’ के समर्थन में फिल्मी हस्तियों ने एकजुटता दिखाई।

‘थ्री बिलबोर्ड्स आउटसाइड एबिंग, मिसौरी’ ने सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार जीतने के साथ ही सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता (सैम रॉकवेल), सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (फ्रांसिस मैकडोरमैंड), सर्वश्रेष्ठ ब्रिटिश फिल्म, सर्वश्रेष्ठ मूल पटकथा का भी पुरस्कार अपने नाम किया।

रॉयल अल्बर्ट हॉल में हुए समारोह में फिल्म के सर्वाधिक पुरस्कार जीतने से खुश निर्देशक मार्टिन मैकडोनफ ने कहा कि मुझे जिस बात पर ज्यादा गर्व है, खासकर इस टाइम्स अप अभियान के दौरान वह बात यह है कि फिल्म एक ऐसी महिला के बारे में है जो और ज्यादा उत्पीड़न सहने से मना कर देती है।

उन्होंने कहा कि ऐसा फिल्म की अभिनेत्री फ्रांसिस मैकडोरमैंड के साथ भी हो सकता है, जिन्होंने फिल्म में मिलड्रेड का किरदार निभाया है, एक ऐसी महिला जो बेटी के हत्यारे को पकड़ने में पुलिस के विफल रहने पर खुद इंसाफ करने की कोशिश करती है।

फ्रांसिस ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीता और टाइम्स अप के समर्थन में पूरी तरह से काले रंग का परिधान नहीं पहना। उन्होंने स्वीकार किया कि काले रंग के ड्रेस कोड के अनुपालन में उन्हें थोड़ी परेशानी हुई।

इसके बावजूद उन्होंने अपनी बहनों (महिलाओं) के प्रति समर्थन प्रदर्शित करते हुए पुरस्कार स्वीकार करने के दौरान अंत में कहा कि लोगों को शक्ति।

भारतीय अभिनेता अली फैजल और दिग्गज अभिनेत्री जूडी डेंच के अभिनय वाली फिल्म ‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ ‘सर्वश्रेष्ठ मेकअप एंड हेयर’ श्रेणी में पुरस्कार जीतने से चूक गई और यह पुरस्कार फिल्म ‘डार्केस्ट आवर’ के हाथ लगा।

फिल्म ‘डार्केस्ट आवर’ में विंस्टन चर्चिल का किरदार निभाने के लिए गैरी ओल्डमैन ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता।

राइजिंग स्टार (उभरता सितारा) अवार्ड, जिसके विजेता को जनता चुनती है, ब्रिटिश अभिनेता डेनियल कालूया को मिला, जिन्होंने हॉरर कॉमेडी फिल्म ‘गेट आउट’ में काम किया है। डेनियल ने यह पुरस्कार अपनी मां को समर्पित किया।

गुइलेरमो डेल टोरो निर्देशित 12 पुरस्कारों के लिए नामांकित हुई फिल्म ‘द शेप ऑफ वाटर’ के सबसे ज्यादा पुरस्कार जीतने की उम्मीद लगाई जा रही थी, लेकिन यह तीन पुरस्कार ही जीत पाई। यह प्रोडक्शन डिजाइन, संगीत और सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार अपने नाम कर सकी।

फिल्म ‘आई, टोन्या’ के लिए अभिनेत्री एलिसन जेनी ने सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार जीता। फिल्म ‘ब्लेड रनर 2049’ ने सर्वश्रेष्ठ स्पेशल इफेक्ट्स और सिनेमेटोग्राफी का पुरस्कार जीता, जबकि निर्देशक क्रिस्टोफर नोलन की फिल्म ‘डंकिर्क’ ने सर्वश्रेष्ठ साउंड का पुरस्कार जीता। जोआना लूमली ने पहली बार इस पुरस्कार समारोह की मेजबानी की।

उन्होंने कहा कि एक सदी पहले महिलाओं ने मतदान करने का अधिकार हासिल करने के लिए आवाज बुलंद की थी और आज दुनियाभर में महिलाओं के उत्पीड़न को और असमानता को खत्म करने के दृढ़ निश्चय के साथ टाइम्स अप अभियान को समर्थन देकर आवाद बुलंद की है।

टाइम्स अप अभियान के समर्थन में सामान्य तौर पर सभी महिलाओं ने काले रंग का परिधान पहना था, लेकिन कैम्ब्रिज की डचेस केट मिडलटन ने गहरे हरे रंग का परिधान पहना।

कुछ कलाकार अपने साथ माता-पिता या अपने साथी को लाने के बजाय नारीवादी कार्यकताओं को साथ लेकर आए। समारोह में ‘आई एम नॉट योर नीग्रो’ को सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंट्री का और डिज्नी के ‘कोको’ को सर्वश्रेष्ठ एनिमेटेड फिल्म का पुरस्कार मिला।

दक्षिण कोरियाई फिल्म ‘द हैंडमेडन’ को विदेशी भाषा श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार मिला। रूंगानो न्योनी और एमिली मोरगैनम ने फिल्म ‘आई एम नॉट अ विच’ के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्रिटिश डेब्यू अवॉर्ड जीता।

जेम्स आइवरी ने फिल्म ‘कॉल मी बाई योर नेम’ के लिए सर्वश्रेष्ठ रूपांतरित पटकथा का पुरस्कार जीता। बाफ्टा फेलोशिप निर्देशक रिडले स्कॉट को मिला।