टोंक में नाबालिग से गैंगरेप के तीन आरोपी गिरफ्तार, बाल अपचारी निरुद्ध

जयपुर। राजस्थान में टोंक जिले के मालपुरा के पचेवर में एक नाबालिग के साथ रेप के आरोप में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया तथा एक बाल अपचारी को निरूद्द किया है।

जिला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्दू ने गैंगरेप मामले में खुलासा करते हुए कहा कि नाबालिग को दो लोगों ने मोटरसाइकिल पर उठाकर ले जाकर दो अन्य के साथ रातभर दुष्कर्म जैसे घिनौने कृत्य को अंजाम दिया।  सिद्धू ने बताया कि पीड़िता के अनुसार चारों आरोपियों ने रात भर उसके साथ बारी-बारी से रेप किया। विरोध करने पर आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की। वारदात के बाद अगली सुबह छह मई को आरोपी उसे गांव के बाहर छोड़ कर फरार हो गए।

गिरफ्तार चारों आरोपी डिग्गी थाना इलाके के रहने वाले हैं। गिरफ्तार आरोपी निसार खान उर्फ नसरिया, सलमान ऊर्फ खोबड़ा और जाकिर ऊर्फ राजरड़ा है। चौथा आरोपी नाबालिग होने के कारण उसे निरुद्ध किया गया है।

उन्होंने कहा कि मामले में आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के प्रयास किए जाएंगे। इस मामले को लेकर पीड़िता के घर बीजेपी सांसद सुखबीर जौनापुरिया पंहुचे ओर उन्होंने राजस्थान सरकार और प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए।

इस बीच कांग्रेस जिला अध्यक्ष लक्ष्मण चौधरी के नेतृत्व में एक दल पीड़िता के घर पंहुचा तथा उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की ओर से भेजी गई एक लाख की सहायता राशि परिवार को सौंपी।

सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, मालपुरा विधायक कन्हैया लाल चौधरी, पूर्व विधायक राजेन्द्र गुर्जर, पूर्व विद्यायक अजित मेहता पीड़िता के घर पंहुचे ओर जांच में दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही और पीड़िता के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नोकरी और 50 लाख रूपए के मुआवजे की मांग रखी।