गाय के घी से होता है 15 रोगो का इलाज

 treatment of 15 diseases of cow's ghee
treatment of 15 diseases of cow’s ghee

SAQBGURU NEWS | नई दिल्ली गाय के घी में ऐसे औषधिय गुण होते हैं जो और किसी चीज में नहीं मिलते। यहां तक की इसमें ऐसे माइक्रोन्यूट्रींस होते हैं जिनमें कैंसर युक्त तत्वों से लड़ने की ताकत होती है। आइए जानते हैं गाय के घी से किन-किन  रोगों का इलाज हो सकता है:-

1.गाय के घी को नाक में डालने से मानसिक शांति मिलती है, याददाश्त तेज होती है।

2.हाथ पाव मे जलन होने पर गाय के घी को तलवो में मालिश करें जलन ठीक होता है।

3.हिचकी के न रुकने पर खाली गाय का आधा चम्मच घी खाए, हिचकी स्वयं रुक जाएगी।

4.गाय के घी का नियमित सेवन करने से एसिडिटी व कब्ज की शिकायत कम हो जाती है।

5.गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है।

6.गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है।

7.गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है।

8.(20-25 ग्राम) घी व मिश्री खिलाने से शराब, भांग व गांझे का नशा कम हो जाता है।

9.गाय का घी नाक में डालने से कान का पर्दा बिना ओपरेशन के ही ठीक हो जाता है।

10.नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा हो जाता है।

11.गाय का घी नाक में डालने से कोमा से बाहर निकल कर चेतना वापस लोट आती है।

12.गाय का घी नाक में डालने से बाल झडऩा समाप्त होकर नए बाल भी आने लगते है।