तृणमूल शुरू करेगी भाजपा हटाओ-देश बचाओ अभियान

Trinamool congress chief Mamata Banerjee to launch ‘BJP hatao, desh bachao’ campaign on 15 august

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर सीधा हमला करते हुए 15 अगस्त से भाजपा हटाओ- देश बचाओ अभियान शुरू करने का एलान किया है।

बनर्जी ने एस्पलैन्ड में शनिवार को तृणमूल कांग्रेस की वार्षिक शहीद दिवस रैली संबोधित करते हुए देश में होने वाले आम चुनाव में टीएमसी की रणनीति का खुलासा करते हुए कहा कि पार्टी 15 अगस्त से बीजेपी हटाओ- देश बचाओ अभियान की शुरुआत करेगी। उन्होंने कहा कि 2019 में भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगेगा और इसका रास्ता बंगाल से निकलेगा।

माब लिचिंग की बढ़ती घटनाओं के लिए भाजपा पर निशाना साधते हुए बनर्जी ने कहा कि पार्टी इन घटनाओं को रोक नहीं पा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस तरह से माब लिचिंग की घटनाएं देशभर में घटित हो रही हैं, वे लोगों के बीच तालिबान बना रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) में अच्छे लोग भी हैं जिनका वह सम्मान करती हैं, लेकिन कुछ लोग गंदा खेल खेल रहे हैं।

टीएमसी प्रत्येक वर्ष 21 जुलाई को 1993 में वामपंथी पार्टी के शासन काल में पुलिस फायरिंग में कथित तौर से मारे गए 13 युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मारे जाने की याद में मानती हैं।

इस मौके पर पूर्व राज्यसभा सांसद चंदन मित्रा, पूर्व वामपंथी सांसद मोईनुल हसन, कांग्रेस नेता यास्मीन और मिजोरम के महाधिवक्ता विश्वजीत देव ने टीएमसी में शामिल होने की घोषणा की।

भाजपा के पूर्व सांसद चंदन मित्रा ने थामा टीएमसी का दामन

भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं पूर्व राज्यसभा सांसद चंदन मित्रा शनिवार को तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मौजदूगी में मित्रा के अलावा मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के पूर्व सांसद मोईनुल हसन, कांग्रेस की सबीना यास्मिन और मिजोरम के महाधिवक्ता बिश्वजीत देब भी टीएमसी में शामिल हुए।

दो बार के राज्यसभा सदस्य मित्रा ने बुधवार को भाजपा से त्यागपत्र दिया था और बनर्जी ने शहर में आयोजित शहीद दिवस रैली में शनिवार को उनके टीएमसी में शामिल होने का एलान किया।