त्रिपुरा में भाजपा नेताओं की नाराजगी दूर, मंत्रिमंडल में होंगे शामिल

अगरतला। त्रिपुरा में मणिक साहा को नए मुख्यमंत्री बनाने के बाद भारतीय जनता पार्टी से नाराज हुए नेता मान गए हैं।

भाजपा सूत्रों ने रविवार को कहा कि साहा को मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर भाजपा नेता विष्णु देव वर्मा और राम प्रसाद पॉल सहित अन्य नाराज हो गए थे, जिनकी नाराजगी अब दूर हो चुकी है तथा सोमवार को 11 सदस्यीय मंत्रिपरिषद में देव वर्मा और पॉल सहित अन्य शपथ ग्रहण करेंगे।

सूत्रों के अनुसार साहा ने अपने 11 सदस्यीय मंत्रिमंडल को अंतिम रूप दे चुके हैं, जिसमें दो नए चेहरे एक भाजपा और आईपीएफटी से शामिल होंगे। जबकि पूर्व आदिवासी कल्याण मंत्री और आईपीएफटी के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मेवर के जमातिया को जगह नहीं मिली है।

भाजपा के आठ पुराने चेहरे और पिछली कैबिनेट के एक आईपीएफटी मंत्री अपने-अपने विभागों को बरकरार रखेंगे। सूत्रों ने बताया कि कैबिनेट सदस्य सोमवार दोपहर 12 बजे शपथ लेंगे।

सूत्रों ने कहा कि पूर्व उपमुख्यमंत्री जिष्णु देव वर्मा और पॉल पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के दिन भर के समझाने के बाद मंत्रिमंडल में शामिल होने के लिए सहमत हुए। इससे पहले दोनों नेता दिन में साहा के शपथ ग्रहण में शामिल नहीं हुए थे।

भाजपा के रामपाड़ा जमातिया पार्टी से नए मंत्री होंगे, जिन्हें आदिवासी कल्याण विभाग मिलना है। आईपीएफटी नेता प्रेम कुमार रियांग मेवाड़ की जगह लेंग, लेकिन उनका विभाग अभी तय नहीं हुआ है।