त्रिपुरा के गोमती जिले में भाजपा के दो समूहों में झडप, आठ घायल

अगरतला। त्रिपुरा में बुधवार दोपहर गोमती जिले के सिलाचरि में भारतीय जनता पार्टी के दो समूहों के बीच संघर्ष में दो पुलिस कर्मी सहित कम से कम आठ लोग घायल हो गए।

कृषि मंत्री प्राणजीत सिंघरॉय के उपस्थिति में कृषि विभाग के कार्यालय के उद्घाटन के दौरान दोनों समूहों में आपस में झडप हो गई। पुलिस ने बताया भाजपा के दो स्थानीय नेताओं मलय दीवान और कमल दीवान लंबे समय से झगड़ा चल रहा था। कमल दीवान मौजूदा विधायक बरबू मोहन त्रिपुरा के नामांकन के खिलाफ थे और और इससे पहले भी इस समूह ने कुछ स्थानीय मुद्दों को लेकर विधायक पर हमला किया।

जब मंत्री और अन्य प्रतिनिधियों ने मंच पर उद्घाटन समारोह में शामिल हुए तभी एकाएक कमल दीवान के नेतृत्व में एक समूह के लगभग 150 भाजपा कार्यकर्ता जिनमें अधिकतर महिलाएं शामिल थी मंच में चढ़कर विधायक के खिलाफ नारे बाजी करने लगे।

उन्हें पुलिस और समारोह में शामिल लोगों ने रोकने की कोशिश की जिसके बाद दोनों समूह में झडप शुरू हो गई। पुलिस ने स्थिति पर नियंत्रण पाने के लिए लाठीचार्ज किया, जिसमें दीवान सहित छह नागरिकों को गंभीर चोटें आई।

इसके अलावा शिलाचरी पुलिस थाने के हैडकांस्टेबल जयंत मालाकर और अन्य सुरक्षा कर्मी की सिर पर भी चोटें आई। उन्हें अगरतला सरकारी मेडिकल कॉलेज में गंभीर स्थिति में भर्ती किया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटना स्थल पर भेजे गये और स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए सुरक्षा बलों को तैनात किया गया। सिंघारॉय जनसभा को संबोधित किए बिना मंच से लौट कर चले गए।