कुर्दिश बलों को प्रशिक्षण देने के अमेरिकी फैसले से तुर्की परेशान

Turkish trouble with American decision to train Kurdish forces
Turkish trouble with American decision to train Kurdish forces

अंकारा | तुर्की के विदेश मंत्रालय ने रविवार को उत्तरी सीरिया में सीमा नियंत्रण बल स्थापित करने के अमेरिकी कदम को एक ‘एकतरफा निर्णय’ करार दिया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, एक लिखित बयान में मंत्रालय ने कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि अमेरिका ने गठबंधन के किस सदस्य से इस पर सलाह ली और इस तरह के बल के गठन का फैसला किया। बयान के अनुसार, गठबंधन के नाम पर इस एकतरफा कदम की व्याख्या बहुत ही गलत है जो दाएश (आतंकी संगठन आईएस) के खिलाफ हमारी लड़ाई को नुकसान पहुंचा सकता है। मंत्रालय ने कहा, तुर्की अपने क्षेत्र को आसन्न किसी भी तरह के खतरे से निपटने को लेकर दृढ़ है।मंत्रालय ने निंदा करते हुए इस कदम को गलत दृष्टिकोण करार दिया और कहा है कि तुर्की सभी प्रकारों के खतरों को समाप्त करने को लेकर सक्षम है।

तुर्की कुर्दिश मिलिशिया वाईपीजी को प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके) की एक शाखा मानता है जिसे अमेरिका ने प्रशिक्षण देकर एक विशेष बल बनाने का निर्णय लिया है।

कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी का लक्ष्य एक स्वतंत्र कुर्दिस्तान की स्थापना है जिसमें तुर्की के कुर्द बहुल हिस्से शामिल हों। कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी पर अमेरिका ने भी प्रतिबंध लगाया हुआ है।लेकिन, सीरियाई कुर्दिश मिलीशिया को अमेरिकी समर्थन को लेकर तुर्की और अमेरिका में विवाद रहा है।

विश्व से जुडी और अधिक खबरों के लिए यहां क्लिक करें

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए, और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE और वीडियो के लिए विजिट करे हमारा चैनल और सब्सक्राइब भी करे सबगुरु न्यूज़ वीडियो