अजमेर : पेट्रोल पंप पर फायरिंग से दशहत फैलाने के आरोपी अरेस्ट

अजमेर। राजस्थान में अजमेर पुलिस ने दस दिन पूर्व 20 अक्टूबर को सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के कचहरी रोड स्थित पेट्रोल पंप पर फायरिंग कर दहशत फैलाने वाले दो आरोपियों को कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।

पुलिस अधीक्षक विकास कुमार शर्मा ने बताया कि फायरिंग करके फरार हुए दोनों आरोपियों को पुलिस ने मध्यप्रदेश के उज्जैन से दस्तयाब किया है। इससे पहले बैंगलोर, हैदराबाद, अहमदाबाद में भी स्पेशल पुलिस दल ने आरोपियों को ढूंढने का प्रयास किया लेकिन सफलता उज्जैन में मिली।

आरोपी पप्पू और मोनू ने फायरिंग करना स्वीकार किया है। उन्होंने बताया कि 20 अक्टूबर की रात दोनों आरोपी मोटरसाइकिल पर सवार होकर पेट्रोल पंप पहुंचे और पेट्रोल पंप के काउंटर पर बैठे नमन गर्ग पर ताबड़तोड़ पांच राउंड फायरिंग कर फरार हो गए।

घटना के बाद से ही पुलिस के अलग अलग दल आरोपियों को खोजने में जुटे थे। आरोपियों से जानकारी मिली है कि मोनू का पूर्व में पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरवाने को लेकर विवाद हो चुका है। जहां तक पांच करोड़ रुपए की फिरौती मांगने की बात है, वह अनुसंधान में साफ होगी।