अलवर : तिजारा के बहुचर्चित व्यापारी की हत्या मामले दो आरोपी अरेस्ट

अलवर। अलवर जिले के तिजारा कस्बे में 7 जून को फल व्यापारी अमरराज उर्फ मुन्ना सैनी की गोली मारकर की गई हत्या के मामले में भिवाड़ी पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार सब्जी व्यापारी की हत्या लूट के इरादे से की गई थी।

पुलिस अधीक्षक भिवाड़ी डॉ.अमनदीप सिंह कपूर ने शनिवार को बताया कि व्यापारी की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी हरियाणा फिरोजपुर के नमका गांव निवासी सहजाद पुत्र खुर्शीद को हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया है। जबकि इसी प्रकरण में हथिन के रणसिखा गांव निवासी नासिर पुत्र फतेह मोहम्मद को सब्जी व्यापारी से लूटे गए मोबाइल को खरीदने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस को इस आरोपी से व्यापारी का मोबाइल बरामद हुआ है।

उन्होंने बताया कि अभी तीसरा आरोपी साकिर पुत्र रसुला निवासी हमीराका थाना शेखपुर फरार है। जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने घटना के बारे में बताया कि अपनी दुकान से घर लौट रहे व्यापारी जब सड़क किनारे किसी से मोबाइल पर बातचीत करने लगा।

इसी बीच बाइक पर दो युवक आए उन्होंने पता पूछने के बहाने से सब्जी व्यापारी से बातचीत शुरू की तथा मौका पाकर मोबाइल छीनकर भागने लगे। व्यापारी ने विरोध किया तभी हमलावरों ने उस पर गोली चला दी। जिससे व्यापारी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे उपचार के लिए जयपुर ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया। पुलिस अभी गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

उल्लेखनीय है कि इस मामले को लेकर तिजारा कस्बे के जनसंगठनों एवं नागरिकों ने व्यापारी के हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए आंदोलन भी किए थे।

टीम में यह सदस्य थे शामिल

आरोपियों को पकड़ने के लिए विशेष टीम का गठन किया गया। जिसमें सीओ तिजारा कुशाल सिंह, सीओ भिवाड़ी हरिराम कुमावत, सीओ महिला सैल भिवाड़ी प्रेम बहादुर सिंह, तिजारा थानाधिकारी जितेंद्र नावरिया, बहरोड़ थानाधिकारी जितेंद्र सोलंकी, फूलबाग थानाधिकारी रविंद्र प्रताप, उप निरीक्षक जयप्रकाश, खुशखेड़ा थानाधिकारी रमाशंकर, शेखपुर थानाधिकारी राम किशोर, खैरथल थानाधिकारी दारासिंह, चौपानकी थानाधिकारी मुकेश कुमार, उप निरीक्षक गौरव प्रधान, कांस्टेबल संदीप कुमार, नीरज, अवनेश आदि शामिल थे।