किशोरी को बेचने तथा उससे ज्यादती के आरोप में मामा समेत दो अरेस्ट

सीहोर। मध्यप्रदेश के सीहोर जिले में एक किशोरी को बेचने तथा बाद में उसके साथ ज्यादती करने के आरोप में पुलिस ने मामा और उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार सिद्धिकगंज के ग्राम श्यामपुरा निवासी 15 वर्षीय आदिवासी बालिका को उसके मामा श्यामसिंह निवासी सुशीलनगर सिद्धिकगंज द्वारा स्माईलखेड़ी कमलापुर बागली देवास निवासी 21 वर्षीय महेन्द्र को एक लाख 20 हजार रुपए में बेच दिया गया था।

किशोरी को बहला फुसला कर स्माईलखेड़ी कमलापुर बागली देवास ले जाया गया। वहां आरोपी महेन्द्र ने उसके साथ ज्यादती की। आरोपी पूजा कराने के लिए किशोरी को बिजवाड़ के मंदिर ले गया। पूजा करने के बाद वह उसे नाश्ता कराने के लिए ले गया।

इसी बीच नाश्ते की दुकान के समीप थाने का बोर्ड देखकर बालिका ने साहस का परिचय देते हुए आरोपी को डराया कि यदि मुझे साथ ले गए तो थाने पहुंच जाऊंगी और वह वहां से भाग कर वह बिजवाड़ अपने रिश्तेदार के यहां पर चली गई।

वहां पहुंचने पर आरोपी उसे जबरन जीप में ले जाने लगा, तभी किशोरी ने ग्रामीणों को मदद के लिए पुकारा। इसी बीच ग्रामीणों ने आरोपी महेन्द्र को दबोच लिया। इसके बाद आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस ने पकडे गए आरोपी से पूछताछ के बाद कल मामा श्यामसिंह को भी गिरफ्तार कर लिया है।