महिला उत्पीड़न मामले में वांछित दो यात्री अन्ना एयरपोर्ट पर अरेस्ट

चेन्नई। महिलाओं के खिलाफ उत्पीड़न के मामले में वांछित दो यात्री, जिनके विरुद्ध लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) जारी किए गए थे, को शनिवार को यहां अन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से गिरफ्तार कर लिया गया।

हवाई अड्डा सूत्रों ने बताया कि मदुरै से इंजीनियर मीनाक्षी सुंदरम (39) को उस समय गिरफ्तार किया गया, जब वह एयर फ्रांस के विमान से पेरिस जाने के प्रयास में था। इसके अलावा नमक्कल निवासी शेरिफ (36), जो दहेज उत्पीड़न मामले में पिछले दो साल से फरार था, को भी कतर की राजधानी दोहा से लौटने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

जब एयर फ्रांस की उड़ान भरने के लिए तैयार थी, आव्रजन अधिकारी यात्रियों के पासपोर्ट, टिकट और यात्रा दस्तावेजों को स्कैन कर रहे थे, तभी यह पाया गया कि मीनाक्षी सुंदरम को फरार आरोपी घोषित किया गया था तथा महिला उत्पीड़न अधिनियम के तहत मदुरै महिला थाना की ओर से छह माह पहले एलओसी जारी किया गया था।

पूछताछ के दौरान मीनाक्षी ने कबूल किया कि पुलिस उसकी तलाश कर रही है और गिरफ्तारी से बचने के लिए पिछले छह महीनों से भूमिगत था। आव्रजन अधिकारियों ने उनकी यात्रा रद्द कर दी, उसे गिरफ्तार कर लिया और मदुरै पुलिस को सूचित किया, जो यहां आई और ट्रांजिट वारंट प्राप्त करने के बाद उसे पूछताछ के लिए मदुरै ले गई।

दूसरे मामले में शेरिफ को तब गिरफ्तार किया गया, जब वह दोहा से एक विशेष विमान से यहां पहुंचा। उसके दस्तावेजों के सत्यापन पर अधिकारियों ने पाया कि उसे वर्ष 2019 में एमकेबी नगर थाना में मामला दर्ज होने के आधार पर दहेज प्रताड़ना में चेन्नई सिटी पुलिस द्वारा फरार आरोपी के रूप में घोषित किया गया था।

इसके बाद वह दो साल तक फरार रहा जिसके कारण उसके खिलाफ भी एलओसी जारी किया गया था। गिरफ्तारी के बाद उसे चेन्नई सिटी पुलिस के हवाले कर दिया गया।