नई ऊर्जा, प्रोत्साहन, प्रतिबद्धता से पार्टी को बनाना है मजबूत : सोनिया गांधी

उदयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि ‘नव चिंतन’ शिविर के बाद नई ऊर्जा, प्रोत्साहन और प्रतिबद्धता के साथ जन आकांक्षाओं के अनुरूप कांग्रेस की मजबूती के लिए काम करना है और जो असाधारण परिस्थितियां देश के सामने मौजूद हैं, उन सबका असाधारण तरीके से ही मुकाबला करना है।

सोनिया गांधी ने शुक्रवार को राजस्थान के उदयपुर में पार्टी के तीन दिवसीय ‘नव संकल्प शिविर’ के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि देश के सामने भारतीय जनता पार्टी ने विकट संकट पैदा कर दिया है और इस शिविर से पार्टी जिस नव संकल्प और नई चेतना के साथ राष्ट्रीय मुद्दों पर बात करेंगे, उनका समाधान नई ऊर्जा, प्रोत्साहन और प्रतिबद्धता के साथ निकालना है।

उन्होंने कहा कि ‘न्यूनतम शासन अधिकतम सरकार’ की बात की जाती रही है लेकिन भाजपा सरकार ने ही उसकी धज्जियां उड़ाई हैं। भाजपा ने हमेशा ध्रुवीकरण की राजनीति पर ध्यान दिया है और अल्पसंख्यकों को प्रताड़ित किया है। दलितों और आदिवासियों के हक़ को मारा है और उनके साथ अत्याचार कर समाज को बांटने का काम किया है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि देश के समक्ष आज जो चुनौतियां हैं और जो असाधारण परिस्थितियां हैं, उनका असाधारण तरीके से ही मुकाबला किया जा सकता है। इस चिंतन शिविर के माध्यम से कांग्रेस को सुधारों को लाना है और रोजाना काम करने के तरीके में बदलाव लाकर पार्टी को नई बुलंदियों तक पहुंचाना है।