युवक की हत्या कांग्रेस की तुष्टीकरण नीति का परिणाम : सतीश पूनियां

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने उदयपुर में आज एक युवक की दिनदहाड़े हत्या कर देेने के मामले में राज्य सरकार पर उदासीनता एवं लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए कहा है कि यह कांग्रेस एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तुष्टिकरण की नीति का ही परिणाम हैं।

डा पूनियां ने युवक की हत्या के मामले को लेकर आज मीडिया से यह बात कही। उन्होंने कहा कि युवक की हत्या करने वाले शख्स ने गत 17 जून को खुली धमकी दी थी और आज घटना को अंजाम दे दिया।

कन्हैया ने सुरक्षा मांगी थी और पुलिस द्वारा उसे सुरक्षा नहीं देना सरकार की उदासीनता, लापरवाही एवं एक तरह से अकर्मण्डयता है।उन्होंने कहा कि जिस तरह राजस्थान के हालात बने है उसमें बहुसंख्ययक हिंदुओं पर स्थान स्थान पर हमले हुए और हत्याएं भी हुई। उन्हें लगता है कि यह कांग्रेस एवं गहलोत की तुष्टीकरण की नीति का परिणाम ही है।

उन्होंने कहा कि आज वारदात हुई और यह सोचने और समझने का मुद्दा है कि प्रधानमंत्री पर हमला करने की बात कही गई हैं। दिन दहाड़े हत्या एक व्यक्ति के बस की बात नहीं हैं। उन्होंने आशंका जाहिर करते हुए कहा कि इस वारदात की ठीक से पड़ताल की जाए तो इसके तार आतंकवाद से जुड़े मिलेंगे। डा पूनियां ने कहा कि यह अकेला कन्हैया पर हमला नहीं हैं बल्कि पूरे समग्र हिन्दू समाज पर हमला है। यह सामान्य घटना नहीं हैं और अपराधियों का जारी वीडियों सुरक्षा को खुली चुनौती दे रहा है।

उन्होंने कहा कि इस घटना को लेकर उदयपुर में व्यापारियों ने बंद किया हैं और आने वाले समय अग्रिम संगठन आंदोलन करेंगे तो भाजपा उनके साथ पूरी ताकत के साथ जुटेगी।

उदयपुर में धार्मिक उन्मादियों ने की दर्जी की हत्या, दो अरेस्ट