उदय ने नीतीश सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप जगाते हुए पार्टी से इस्तीफा

उदय ने नीतीश सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप जगाते हुए पार्टी से इस्तीफा
उदय ने नीतीश सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप जगाते हुए पार्टी से इस्तीफा

पटना । जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता और बिहार विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने नीतीश सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए आज पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

श्री चौधरी ने यहां बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को अपने निर्णय से अवगत करा दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य में वर्तमान सरकार में दलितों का उत्पीड़न हो रहा है और उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। ऐसी स्थिति में उनका पार्टी में बने रहने का कोई औचित्य नहीं है।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष से जब यह पूछा गया कि क्या वह लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनता दल या जदयू के बागी नेता शरद यादव के नेतृत्व में गठित होने वाली पार्टी में शामिल होंगे इस पर उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार किया। गौरतलब है कि श्री चौधरी ने हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इस्तीफा देने वाले पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के राष्ट्रीय मंच के पटना में आयोजित सम्मेलन में हिस्सा लिया था। इस सम्मेलन में भाजपा विरोधी कई राष्ट्रीय स्तर के नेता शामिल हुए थे।