14 अगस्त को पूरा देश देखेगा जादूगर की जादूगरी : शांति धारीवाल

बाड़ेबंदी के दौरान महिला विधायकों ने  लिया तीज के त्यौहार का आनंद।

जैसलमेर। राजस्थान में जैसलमेर के दो होटलों में चल रही विधायकों की बाड़ेबंदी के बीच राजस्थान के स्वास्थ्य शासन मंत्री शान्ति धारीवाल ने कहा है कि संख्या के खेल में 14 अगस्त को पूरा देश हमारे जादूगर की जादूगरी देखेगा।

गुरुवार को जैसलमेर आए धारीवाल ने कहा कि उस दिन हर बात साफ हो जाएगी। हमारी सरकार पूरी तरह सुरक्षित हैं, हमें किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। बसपा विधायकों के संबंध में उच्च न्यायालय द्वारा जारी किए गए नोटिस के संबंध में उन्होंने कहा कि जो भी न्यायपालिका ने आदेश दिए हैं उसकी पालना होगी। न्यायालय के निर्णय के बारे में वह टिप्पणी नहीं करना चाहते, लेकिन उनके पास अच्छा खासा बहुमत है। न्यायालय का निर्णय जो भी हो उनकी सरकार पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

धारीवाल ने कहा कि दूसरे गुट में भी जो विधायक कैद हैं उसमें से कुछ विधायक हमारे पास आना चाहते हैं। यह आने वाले दिनों में स्पष्ट हो जाएगा। उन्होंने जैसलमेर की होटलों में बाड़ाबंदी की सभी बातो को खारिज करते हुए कहा कि जैसलमेर में किसी प्रकार की कोई बाड़ाबंदी नहीं हैं। सभी विधायक आराम से खुले घूम रहे हैं। आप होटल जाकर देखे कि एक भी विधायक होटल में बैठा नहीं हैं।

इससे पहले बाड़ेबंदी के दौरान महिला विधायकों ने तीज का त्यौहार आनंद, हर्षाेल्लास एवं परंपरागत तरीके से मनाया। महिला विधायकों ने एक दूसरे के हाथों में मेहन्दी लगाई। तीज माता का पूजन किया एवं झूले झूलते हुए तीज के गीत भी गाए। इस अवसर पर विधायक महिलाओं ने आकर्षक श्रृंगार करने के साथ रंगबिरंगे परिधान पहने। उन्होंने बाद में पूजा अर्चना के बाद अपना व्रत खोला।

दूसरी तरफ गोरबंध पैलेस होटल में ठहरे विधायक प्रशांत बैरवा और मंत्री सुखराम बिश्नोई की गुरुवार को तबीयत खराब हो गई। बैरवा को पेट दर्द की शिकायत के बाद चिकित्सालय ले जाया गया जहां उनकी सोनोग्राफी की गई, वहीं मंत्री सुखराम विश्नोई की जांच के लिए होटल में ही चिकित्सकों को बुलाया गया और उनकी जांच की गई। दोनों में किसी प्रकार की कोई चिन्ताजनक बात सामने नहीं आई। विधायक बैरवा की सोनोग्राफी भी सामान्य पाई गई है।

उधर, शान्ति धारीवाल, प्रमोद जैन भाया, विधायक संयम लोढ़ा, विधायक रोहित बोहरा, विधायक मेवाराम जैन आदि आज विश्व विख्यात सोनार किला, पटवा हवेलिया एवं लुद्रवा जैन मन्दिर गए। दूसरी ओर कई मंत्री अपना सरकारी काम काज निपटाते देखे गए। अर्जुन सिंह बामणिया ने कई सरकारी कार्यक्रम निपटाए और अधिकारियों से विभागीय गतिविधियों की जानकारी ली। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के शुक्रवार को यहां आने की संभावना है।