मुस्लिम होने के कारण बर्खास्त किया गया : ब्रिटिश मंत्री नुसरत गनी

लंदन। ब्रिटेन की संसद की सदस्य नुसरत गनी ने रविवार को आरोप लगाया कि उन्हें मुस्लिम होने के कारण मंत्री पद से हटाया गया था हालांकि ब्रिटेन के मुख्य सचेतक मार्क स्पेंसर ने कंजर्वेटिव सांसद के इस आरोप का खंडन किया है। गनी को 2020 में एक फेरबदल में परिवहन मंत्री पद से हटा दिया गया था।

द संडे टाइम्स के अनुसार नुसरत ने कहा कि उन्हें एक सचेतक द्वारा बताया गया था कि डाउनिंग स्ट्रीट की एक बैठक में उनकी मुस्लिम अस्मिता का मुद्दा उठाया गया था। साथ ही बैठक में यह भी कहा गया था कि मुस्लिम महिला का मंत्री होना सहयोगियों को असहज महसूस कराता था।

गनी ने आगे कहा कि उन्होंने इस मामले को तब छोड़ दिया जब उन्हें बताया गया कि अगर वह इस मुद्दे को उठाती हैं तो उन्हें बहिष्कृत कर दिया जाएगा और उनका करियर और प्रतिष्ठा नष्ट हो जाएगी।

बीबीसी के अनुसार कंजर्वेटिव चीफ व्हिप मार्क स्पेंसर ने खुद को वह व्यक्ति बताया है जिसके बारे में नुसरत गनी ने दावा किया है। उन्होंने कहा कि यह आरोप पूरी तरह से असत्य हैं।

स्पेंसर ने ट्विटर पर कहा कि यह निराशाजनक है कि जब गनी के सामने इस मुद्दे को उठाया गया तो उन्होंने इस मामले को औपचारिक जांच के लिए कंजर्वेटिव पार्टी को भेजने से मना कर दिया।