भारत और UAE का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट | पानी के अंदर चलेगी ट्रैन | MUMBAI TO DUBAI TRAIN

MUMBAI TO DUBAI TRAIN | कहते हैं की transportation is transformation, अगर किसी भी देश या इलाके को विकसित करना हो तो वहां पर ट्रांसपोर्टेशन को विकसित कर दीजिये। फिर देखिए वह जगह किस तरह विकसित होती हैं। और आज कल का ट्रांसपोर्ट एक अलग ही कामियाबी पर पहुच रहा हैं। और आपको बता दे कि भारत भी एक अच्छे ट्रांसपोरटेशन वाले देशो की गिनती में शामिल हो गया हैं।

बड़ी खबर यह है की एक बड़ी पहल हुई हैं UAE की तरफ से। एक अल्ट्रा हाई स्पीड अंडर वाटर रेलवे नेटवर्क बनाने की। यह रेल प्रोजेक्ट यूनाइटेड अरब के फुजिरा शहर को भारत के मुंबई शहर से जोड़ेगा। वो भी अरब सागर के भीतर से होता हुआ। जी हाँ यह एक मेगा प्रोजेक्ट हैं। और एक बहुत महत्वकांशी प्रोजेक्ट भी। अगर यह अंडर वाटर नेटवर्क बन गया तो मान लीजिये मुंबई से UAE पहुंचने में समय मात्र 2 घंटे ही रह जाएगा।

इस मेगा प्रोजेक्ट को लेकर कई बड़े सवाल और चुनौतियां भी सामने आई हैं। जैसे कि सेफ्टी को लेकर चिंतन, अगर रेल की दुर्घटना अंडर वाटर हो गयी तो वहा तुरंत आपातकालीन सुविधा कैसे पहुंचाई जाएगी। आइये जानते हैं इस प्रोजेक्ट को विस्तार से-

imegine the imeginable, यह मोटो हैं uae के नेशनल एडवाइज़र ब्यूरो का। अल्ट्रा हाई स्पीड अंडर वाटर रेलवे नेटवर्क uae के जरिये ही प्रस्तावित हुआ हैं| यह प्रोजेक्ट दोनों देशो के बाइलट्राईट्रेड को बढ़ावा देगा। इस अंडर वाटर ट्रैन से न केवल पैसेंजर भारत से uae आ जा पाएंगे बल्कि दोनों देशो में गुड्स का भी ट्रांसपोर्टेशन आसानी से होगा। और इस प्रोजेक्ट के सफल होने का सबसे ज्यादा फायदा  भारत को ही होगा।

इस प्रोजेक्ट से तेल uae से सीधा भारत आ सकेगा? जिससे भारत में तेल की कीमत में कमी आएगी? और आम जनता को भी राहत मिलेगी। इसमें uae का भी फायदा हैं। जैसे मुंबई के पास नर्मदा नदी का पानी बड़े आसानी से uae पहुंचाया जा सकेगा। तेल सीधा भारत पहुंचने से भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भारी गिरावट आएगी। जो की एक मुनाफे का सौदा हैं। यह प्रोजेक्ट मोदी सरकार के काल में प्रस्तावित हुआ हैं।