बारां में चलती कार में लगी आग, चाचा-भतीजा जिंदा जले

बारां। राजस्थान में बारां-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग 27 पर सोमवार को चलती कार में अचानक आग लग गई। इससे कार चालक समेत दो जने कार में ही जिंदा जल गए।

हादसे में कार में सवार दो अन्य लोगों की मार्ग पर चल रहे राहगीरों ने साहस दिखाते हुए उन्हें बाहर निकालकर जान बचाई, लेकिन वह दोनों भी बुरी तरह झुलस गए। इन लोगों को राजकीय बारां जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने बताया कि बारां जिले के किशनगंज थाना क्षेत्र के खैरूना गांव निवासी सागर चौधरी की सगाई का कार्यक्रम था। कार्यक्रम के बाद सोमवार कोटा के बापूनगर, कंसुआ निवासी मनीष चौधरी, भाभी लक्ष्मी चौधरी, भतीजा निरूद्ध चौधरी कार से कोटा लौट रहे थे। दूल्हा सागर चौधरी भी उसी कार में सवार होकर उनके साथ कोटा जा रहा था।

खैरूना से रवाना होने के बाद बारां शहर से गुजर रहे राष्ट्रीय राजमार्ग 27 पर फूंसरा गांव के नजदीक अचानक चलती कार डिवाइडर से टकरा गई। रगड़ती हुई कुछ दूर जाने के बाद कार में आग लग गई। कार सवार कुछ समझ पाते या बाहर निकलते, इससे पहले ही कार से आग की लपटे निकलने लग गई।

किसी तरह राहगीरों ने महिला लक्ष्मी चौधरी (30) पत्नी अंकित चौधरी एवं सागर चौधरी (24) को बाहर निकाला। मनीष चौधरी पुत्र शम्भू सिंह जाट (30) एवं उसका दो वर्षीय भतीजा अनिरूद्ध कार में ही जिंदा जल गए।