राजस्थान सरकार के बाड़े में बंद होने से विकास ठप : कैलाश चौधरी

जयपुर। केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर प्रदेश के विकास एवं जनता की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार के बाड़े में बंद होने से राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ने के साथ विकास कार्य ठप पड़े है और वह वैश्विक महामारी कोरोना के प्रबंधन में भी पूरी तरह फेल हो चुकी है।

चौधरी ने आज सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है और अपराध दिनों-दिन बढ़ते जा रहे है एवं अपराधियों के हौंसले बुलंद हैं, प्रदेश में विकास के सभी कार्य ठप पड़े हैं। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि आखिर सरकार कब तक बाड़े में बंद रहेगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है, वहीं सरकार, उनके मंत्री एवं विधायक होटल के बाड़े में बंद होकर मौज-मस्ती कर रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना के प्रबंधन में राज्य सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है।

जिस तरीके से विधायकों को बाड़ाबंदी में रखा जा रहा है। पूरा प्रदेश और देश देख रहा है, जब कांग्रेस में एकता है, भय नहीं है तो बाड़ा खोल दो, फिर जगह-जगह विधायकों को बाड़े में क्यों रखा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जनता पर महंगाई की मार पड़ रही जबकि सरकार आलीशान होटल में सो रही है। राज्य सरकार ने पेट्रोल एवं डीजल की दरों पर लगातार वैट बढाकर आम जनता सहित किसान उपभोक्ता पर भार डालकर जनता की कमर तोड़ने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि पूरे राजस्थान में कांग्रेस ने धरना प्रदर्शन कर आपदा प्रबंधन कानून की धज्जियां उड़ाईं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत प्रदेश के गृहमंत्री भी हैं, जो राजस्थान की शांति और सुकून को अराजकता की तरफ धकेलने के दोषी हैं और उनकी सरकार भी दोषी है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में सरकार की शह पर बजरी माफ़िया ने आतंक मचा रखा है और सरकार उनकी मेहरबानी से पांच सितारा होटल में मौज मस्ती कर रही है। राज्य सरकार ने बजरी खनन समस्या का समाधान प्राथमिकता के आधार पर करने का जनता से वायदा किया था लेकिन इसमें वह पूरी तरह विफल रही है। सरकार की सरपरस्ती में बजरी माफिया बेखौफ होकर बजरी खनन कर रहे है एवं कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य में महिलाओं पर बलात्कार की घटनाएं भी बढ़ती जा रही है, और राज्य सरकार मुगल-ए-आज़म और अनारकली देखने में व्यस्त है।