विवि में छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या,जांच कमेटी का गठन किया

विवि में छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या,जांच कमेटी का गठन किया
विवि में छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या,जांच कमेटी का गठन किया

लखनऊ | लखनऊ स्थित डा शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुर्नवासन विश्वविद्यालय ने बीएड छात्रा की आत्महत्या और अन्य अनिमियतिताओं की जांच के लिये चार सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है।

पारा थाना क्षेत्र के अंतर्गत इस विवि के छात्रावास में कल शाम 23 वर्षीय बीएड छात्रों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। छात्रा की मौत से आक्रोशित छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन पर चिकित्सीय सुविधायें न होने का आरोप लगाते हुये प्रदर्शन किया था। छात्रों का आरोप है कि विवि परिसर में एंबुलेंस न होने के कारण छात्रा को दो पहिया वाहन से अस्पताल ले जाना पडा जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आंदोलनरत छात्रों ने देर रात तक पुलिस को विश्वविद्यालय परिसर में प्रवेश नही करने दिया। उन्होने विवि परिसर में तोड़फोड़ भी की।

देवरिया की मूल निवासी पारूल बीएड के चौथे सेमेस्टर की छात्रा थी और हास्टल के कमरा नम्बर 219 में रहकर पढाई कर रही थी। विवि के कुलपति प्रवीण कुमार ने इस मामले में गठित कमेटी काे एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देने को कहा है। कमेटी की अध्यक्षता प्रो़ शैफाली यादव करेंगी जबकि कमेटी के अन्य सदस्यों में डा़ अनामिका चौधरी, प्राक्टर राजीव नयन और प्रो़ विनोद कुमार सिंह शामिल हैं। इस बीच छात्रों के आक्रोश के मद्देनजर विवि परिसर में छह कंपनी पीएसी तैनात की गयी है हालांकि घटना के बाद परिसर में छात्रों का जमावड़ा बढता जा रहा है।