उन्नाव गैंगरेप : विधायक सेंगर की रिमांड समाप्त, जेल भेजा गया

Unnao gangrape accused BJP MLA Kuldeep Singh Sengar back in jail as CBI remand ends

उन्नाव। केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने बलात्कार के आरोपी भारतीय जनता पार्टी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की रिमांड समाप्त होने के बाद शुक्रवार को जेल भेज दिया।

भाजपा विधायक और उसकी सहयोगी शशि सिंह को सीबीआई अधिकारियों ने उन्नाव जिला कारागार में दाखिल करा दिया। इससे पहले भाजपा विधायक का लखनऊ में मेडिकल चेकअप कराया गया था।

सूत्रों ने बताया कि सेंगर की पुलिस रिमांड दोपहर एक बजे पूरी होनी थी लेकिन सीबीआई अधिकारियों ने निर्धारित समय सीमा से पहले ही विधायक की आमद जेल में करा दी। अब सीबीआई विशेष अदालत में मामले से संबंधित दस्तावेज प्रस्तुत करेगी।

उन्होने बताया कि बांगरमऊ के विधायक की रिमांड के दौरान सीबीआई को अहम सुराग हाथ लगे हैं जिन्हे पुख्ता करने के लिए सीबीआई विधायक का पोटेंसी टेस्ट भी करा सकती है। इसके लिए विशेष अदालत की अनुमति लेने की तैयारी की जा रही है।

उधर, मामले को पुख्ता करने की कवायद में जुटी सीबीआई आज दुष्कर्म पीड़ित किशोरी के चार वर्षीय भाई व दो बहनों से भी घटना का ब्योरा जानने की कोशिश कर सकती है। परिवार के लोगों से इसकी रजामंदी लेे ली गई है। इस दौरान पीड़िता के चाचा और मां को भी सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस में ही मौजूद रहने को कहा गया है।

गौरतलब है कि बलात्कार पीडित किशोरी और उसके पिता की हत्या के आरोप मामले को योगी सरकार ने पिछली 11 अप्रैल को जांच के लिए सीबीआई को सौंपने का फैसला किया था।

बलात्कार के मामले में विधायक कुलदीप सिहं सेंगर और अन्य आरोपियों के खिलाफ माखी पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की थी। विधायक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 ( बलात्कार), 366 (विवाह के लिए या यौन संबंध बनाने के लिए विवश करना), 363 (अपहरण) और 506 (आपराधिक धमकी देना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।