शाहजहांपुर में पांच बच्चों समेत सात लोगों की मृत्यु

7 children killed, 6 critical in lightning strikes in Shahjahanpur
7 children killed, 6 critical in lightning strikes in Shahjahanpur

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले के कांठ थाना क्षेत्र में शनिवार शाम अलग-अलग स्थानों पर बारिश के दौरान बिजली और दरवाजे का स्लैब गिरने से पांच बच्चों समेत सात लोगों की मृत्यु हो गई है जबकि चार गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने यहां बताया कि कांठ इलाके के समशेरपुर गांव में शाम करीब चार बजे गांव के बच्चे खेतों में पशु चरा रहे थे। इसी बीच तेज बारिश शुरू हो गई और बच्चे बारिश से बचने के लिए एक पाकड़ के पेड़ के नीचे बैठ गए।

उन्होंने बताया कि इसी दौरान तेज आवाज के साथ बिजली पाकड़ के पेड़ पर गिर गई, जिसमें वहां बैठे नौ बच्चों में दो बच्चे अनिल और अनुज दूर छिटककर जा गिरे बाकी बच्चों को आकाशीय बिजली ने अपनी चपेट में ले लिया।

उन्होंने बताया कि इस हादसे में समशेरपुर गांव के 24 वर्षीय मोहित, पांच साल के बबलू , दस साल के अनमोल और 11 साल के डबलू की मृत्यु हो गई है जबकि विपिन रामकिशोर तथा एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया है। घायलों की उम्र 10 से 15 वर्ष के बीच है।

त्रिपाठी ने बताया कि इसके अलावा नबीपुर गांव में खेतों में बकरी चरा रही 11 वर्षीय बंदना और उसकी बकरी पर बिजली गिर गई। हादसे में बंदना और बकरी की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि सिकंदरपुर गांव में बिजली गिरने से 42 वर्षीय अशोक की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई।

उन्होंने बताया कि जलालाबाद क्षेत्र के पुरैना गांव निवासी अरविन्द के घर के दरवाजे पर बंदर कूदने से सीमेंट का स्लैब गिर गया जिसकी चपेट में आने से उसकी छह साल की बेटी एकता की मृत्यु हो गई।

जिलाधिकारी ने बताया कि उप जिलाधिकारी रामजी मिश्रा को घटनास्थल पर भेजा गया है साथ ही सभी मृतकों के परिजनों को 12 घंटे के भीतर चार-चार लाख रूपए की आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई जा रही है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है जबकि घायलों को शाहजहांपुर के जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है।