उत्तर प्रदेश: श्मशान में मुस्लिम समाज के लोगों ने की दफ़न की रस्म अदा

UP People of Muslim society pay tribute to cremation in crematorium
UP People of Muslim society pay tribute to cremation in crematorium

SABGURU NEWS | मुरादाबाद उत्तर प्रदेश मुरादाबाद के कटघर क्षेत्र में हिन्दुओं के श्मशान में मुस्लिम समाज के लोगों ने एक युवक को सुपुर्द-ए-खाक करके एकता की मिसाल कायम की।

पारिवारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि डबल फाटक निवासी रामकिशन सैनी का बेटा चमन मानसिक रूप से विक्षिप्त था। वह वर्ष 2009 में अचानक लापता हो गया था। उसकी गुमशुदगी की तहरीर कटघर थाने में दर्ज करायी गयी थी। इसके बाद वर्ष 2014 में वह ईदगाह में घुमते हुए मिला। परिजन उसे घर ले जा रहे थे।

इस बीच गलशहीद थाना क्षेत्र में असालत पूरा निवासी शुभान ने उसे अपना भाई बताया। दोनों परिवारों की पंचायत थाने में चली। पांच साल से चमन को मुस्लिम परिवार अपने बेटे की तरह पाल रहा था। उसका नाम भी रिजवान रख दिया था। तय किया गया कि दोनों परिवार उसकी देखभाल करेंगे। चमन उर्फ़ रिजवान दोनों ही परिवारों में घुलमिल कर रहता था कल दोपहर में बीमारी के चलते उसकी मौत हो गयी।

मृतक चमन की मां ज्वाला देवी अंतिम संस्कार की इच्छा लिये शुभान के घर पहुची। मुस्लिम समाज के लोग अपने रीति रिवाज से अंतिम संस्कार करने की जिद करने लगे। इस बीच दोनों ही समुदायों के कुछ लोग जुट गए। जिससे मामला साम्प्रदायिक रूप लेने लगा। कई बार दोनों ही समुदायों में तनाव की स्थिति भी अंतिम संस्कार को लेकर बनी। दोनों परिवारों की सूझबूझ और स्थानीय प्रशासन की सतर्कता से ऐसा कुछ नहीं हुआ।

सूचना मिलने पर अपर नगर मजिस्ट्रेट रामजी लाल भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने दोनों पक्षों से बात की। जिसमें तय हुआ कि हिन्दुओं के शमशान में चमन उर्फ़ रिजवान की कब्र खोदी जायेगी। इसके लिये सभी राजी हो गए। शुभान के परिवार के साथ ही ज्वाला देवी के परिजनों ने एक साथ अर्थी को कंधा देते हुए अंतिम यात्रा निकाली। रात करीब एक बजे दोनों धर्मो के हिसाब से अंतिम संस्कार के बाद पुलिस और प्रशासन ने चैन की सांस ली।