इटावा में बकरी चराने गये दो किशारो के शव मिलने से हंगामा

Uproar over the bodies of two teenagers who graze a goat in Etawah
Uproar over the bodies of two teenagers who graze a goat in Etawah

इटावा। उत्तर प्रदेश में इटावा के ऊसराहार इलाके के कदमपुर गाॅव के एक निजी तालाब से दो किशोरों के शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया।

शव मिलने के बाद परिजनों ने करीब 3 घंटे तक जाम लगा कर के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

दोनों की मौतों को लेकर पीड़ित परिवारों की ओर से इलाके की एक दबंग दिनेश यादव का नाम लिया गया है। ऐसा कहा जा रहा है कि करीब 1 महीने पहले दिनेश यादव की ओर से धमकी दी गई थी जिसके बाद अब यह वारदात हुई। इस वजह से ऐसा प्रतीत होता है कि इस वारदात में दिनेश यादव और उसके लोगों का हाथ हो सकता है।

दोनों कल दिन में बकरी चराने गए थे लेकिन देर शाम तक नही लौटे तो खोजबीन शुरू की गई। जिसके बाद दोनों के शव आज तालाब से मिले।

मृतकों के परिजनों ने हत्या का आरोप लगा कर प्रदर्शन किया। घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह, सीओ और एसडीएम ताखा सत्यप्रकाश समेत बड़ी तादात में पुलिस पहुंच कर हालात को सामान्य बनाया। मौत के शिकार हुए दोनों के नाम इमरान खान और दिलशाद खां हैं। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

दोनों किशोरों के एक परिजन सलीम ने बताया कि दिन में यह दोनों बकरी चराने के लिए गए हुए थे। देर शाम 6 बजे के आसपास बकरियां तो वापस आ गई लेकिन यह वापस नहीं लौटे उसके बाद उनकी खोजबीन की गई। खोजबीन में पता चला कि दोनों के शव दबंग दिनेश यादव के तालाब में पड़े हुए हैं जिसे आज बाहर निकाला गया।