अजमेर में 806वां उर्स चांद दिखने पर 18 या 19 मार्च से

Khawaja Gharibnawaz Dargah Ajmer
Khawaja Gharibnawaz Dargah Ajmer

अजमेर। राजस्थान के अजमेर में सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती का 806वां सालाना उर्स चांद दिखने के अनुसार 18 या 19 मार्च से शुरु होगा।

ख्वाजा साहब के गद्दीनशीन एसएफ हसन चिश्ती ने बताया कि उर्स में देश-विदेश के लाखों जायरीन हिस्सा लेंगे। इस अवसर पर चांद दिखने के साथ ख्वाजा साहब की मजार पर केवडे एवं गुलाब जल से खुद्दाम ए ख्वाजा गुसल देंगे एवं मुल्क की खुशहाली के लिए दुआ करेंगे।

उन्होंने बताया कि 14 मार्च को बुलंद दरवाजे पर असर की नमाज के बाद झंडा चढ़ाया जायेगा। 17 मार्च को ख्वाजा साहब की मजार पर सालभर चढ़ाया जाने वाला संदल खुद्दाम ए ख्वाजा मजार से उतारकर जायरीनों में वितरित किया जाएगा तथा 18 मार्च को सुबह जन्नती दरवाजा खोला जायेगा जो सालाना उर्स की छठी के कुल के बाद बंद कर दिया जाएगा।

डॉक्टर्स की खुली पोल || बहार की दवाई लिखने पर करना पड़ा अधिकारी के गुस्से का सामना