अमरीकी नागरिकों पर वीजा संबंधी प्रतिबंध लगाएगा चीन

बीजिंग। चीन ने हांगकांग से जुड़े मुद्दों पर खुलकर अपने विचार रखने वाले अमरीकी नागरिकों पर वीजा संबंधी प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। चीन के इस कदम को अमरीका के खिलाफ बदले की कार्रवाई के रूप में देखा जा रहा है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने बुधवार को पत्रकारों को यह जानकारी दी।

प्रवक्ता ने कहा कि अमरीका तथाकथित प्रतिबंध लागू कर चीन के विशेष प्रशासित क्षेत्र हांगकांग में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लागू करने में बाधा पहुुंचा रहा है, लेकिन वह कभी सफल नहीं होगा। इसके जवाब में चीन ने हांगकांग से जुड़े मुद्दों पर खुलकर अपने कट्टरवादी विचार रखने वाले अमरीकी नागरिकों पर वीजा संबंधी प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक चीन का यह कदम अमरीका की ओर से 2018 के तिब्बत अधिनियम के तहत चीन की सरकार तथा चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकारियों पर वीजा संबंधी पाबंदियां लागू करने के जवाब के रूप में देखा जा रहा है। अमरीका ने एक सप्ताह पहले हांगकांग को रक्षा उपकरणों तथा संवेदनशील प्रौद्योगिकी के निर्यात पर रोक लगाने की घोषणा की थी।

गौरतलब है कि चीन ने हांगकांग में एक विवादास्पद राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लागू कर दिया है। दुनिया भर के विश्लेषकों का मानना है कि इस कानून से हांगकांग की स्वायत्तता और नागरिक अधिकारों के लिए गंभीर खतरा पैदा होगा। हांगकांग के अलावा अमरीका और कई यूरोपीय देशों में इस कानून के खिलाफ लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं।