हाफिज सईद की मिल्ली मुस्लिम लीग आतंकवादी पार्टी घोषित

US designates Hafiz Saeed's Milli Muslim League as terrorist outfit
US designates Hafiz Saeed’s Milli Muslim League as terrorist outfit

इस्लामाबाद। अमरीका ने आतंकवादी संगठन लश्कर-ए -तैयबा के सरगना एवं मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की कथित राजनीतिक पार्टी ‘मिल्ली मुस्लिम लीग’(एमएमएल) को आतंकवादी पार्टी घोषित किया है।

अमरीका ने यह कदम एेसे समय उठाया है जब पाकिस्तान इस पार्टी को राजनीतिक दर्जा देने की कवायद में लगा है। अमरीका लश्कर को बहुत पहले ही विदेशी और वैश्विक आतंकवादी संगठन घोषित कर चुका है और उसने हाफिज के सिर पर एक करोड़ अमेरिकी डॉलर का इनाम भी घोषित कर रखा है। भारत ने अमरीका के इस कदम का स्वागत किया है।

हाफिज की राजनीतिक पार्टी एमएमएल उस समय चर्चा में आयी थी जब उसने सितम्बर 2017 के उप चुनाव में अपने उम्मीदवार को चुनाव मैदान में उतारने की कोशिश की थी। पनामा पेेपर्स लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को अपदस्थ कर दिया था जिसके बाद खाली हुई सीट के लिए कराए गए उप चुनाव में एमएमएल ने अपना उम्मीदवार खड़ा करने का प्रयास किया था।

अक्टूबर 2017 को पाकिस्तान चुनाव आयोग ने एमएमएल को चुनाव लड़ने से यह कहकर मना कर दिया कि उसके सम्पर्क आतंकवादी संगठन से हैं और यह पार्टी चुनाव आयोग के साथ पंजीकृत नहीं हो सकती है लेकिन पिछले माह इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने चुनाव अायोग को एमएमएल को पंजीकृत करने का आदेश दिया था।

अमरीकी विदेश विभाग ने एक बयान जारी करके कहा कि सईद के दल एमएमएल को आतंकवादी संगठन घोषित करने का मकसद आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने की उसकी योजनाओं और कार्रवाई के लिए वांछित धनराशि एवं अन्य मदद पर प्रतिबंध लगाना है। जब तक लश्कर हिंसा को पूरी तरह से नहीं छोड़ देता, उसे आवाज उठाने के लिए किसी तरह का राजनीतिक मंच नहीं दिया जा सकता है।

अमरीका ने लश्कर को 26 दिसंबर 2001 में विदेशी और वैश्विक आतंकवादी संगठन घोषित किया था। उसने इसके सरगना हाफिज सईद को भी वैश्विक आतंकवादी घोषित किया था। अमेरिका और भारत ने वर्ष 2008 में मुंबई में आतंकवादियों के साथ चार दिनों तक चली गोलीबारी में सईद का हाथ होने का आरोप लगाते रहे हैं। इस हमले में 166 लोगों की मौत हुई थी। सईद हालांकि अपनी संलिप्तता से लगातार इन्कार करता रहा है।

हाफिज ने इस वर्ष 23 मार्च को एमएमएल का घोषणा पत्र भी जारी कर दिया था। एमएमएल को एक राजनीतिक पार्टी के रूप में मान्यता देने के लिए इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने भी रास्ता साफ कर दिया था। हाफिज ने 1980 के दशक में लश्कर का गठन किया था।

हाफिज के सियासी दल को आतंकवादी घोषित करना स्वागत योग्य : भारत

भारत ने पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन लश्कर-ए- तैयबा के सरगना हाफिज सईद की राजनीतिक पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग तथा उसके सात पदाधिकारियों को अमेरिका की ओर से वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने का आज स्वागत किया और कहा कि इससे उसका पक्ष मज़बूत हुआ है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने अमरीकी प्रशासन के इस कदम के बारे में मीडिया के सवालों के जवाब में कहा कि भारत अमरीका द्वारा पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर-ए- तैयबा से जुड़े मिल्ली मुस्लिम लीग और लश्कर की ओर से काम करने वाले उसके पदाधिकारियों पर की गई कार्रवाई का स्वागत करता है। इससे भारत के उस रुख को बल मिलता है कि पाकिस्तान ने आतंकवादी संगठनों एवं आतंकवादियों के विरुद्ध प्रभावी कार्रवाई नहीं की है।

कुमार ने कहा कि इससे इस तथ्य को भी संज्ञान में लिया गया है कि आतंकवादियों एवं उनके संगठनों को नाम बदलने और पाकिस्तान के नियंत्रण वाले इलाके में अपनी गतिविधियां चलाने की छूट मिली है।

अमरीका ने यह कार्रवाई करके पाकिस्तान द्वारा आतंकवादियों एवं उनके संगठन को मुख्यधारा में लाने के प्रयासों को भी खारिज किया है और अातंकवादियों की सुरक्षित पनाहगाहों एवं उनके वित्त पोषण के ढांचे को नष्ट करने की अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धता पूरी करने में पाकिस्तान की विफलता को भी उजागर किया है।