उत्तराखंड: तमिलनाडु के टप्पेबाज गिरोह के आठ सदस्य गिरफ्तार

Uttarakhand 8 members of Tamil Nadu gang raped
Uttarakhand 8 members of Tamil Nadu gang raped

देहरादून. उत्तराखंड के देहरादून में महज एक दिन में पांच कारों का शीशा तोड़कर लाखों रुपये का माल उड़ाने के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए तमिलनाडु के आठ लोगों को चोरी के माल के साथ गिरफ्तार कर लिया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) निवेदिता कुकरेती कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि 21 मार्च को राजधानी के कोतवाली सदर, थाना राजपुर और डालनवाला क्षेत्रों में पांच वाहनों का शीशा तोड़कर अज्ञात टप्पेबाजों ने वाहनों में रखे बैग चोरी कर लिये। इन घटनाओं के खुलासे के लिए संबंधित थानों के तेजतर्रार पुलिस कर्मियों के अलावा, विशेष कार्य दल (एसओजी) को लगाया गया था।

एसएसपी ने बताया मुखविर की सूचना के आधार पर यह गिरोह दक्षिण भारत हो सकता है। जिसके आधार पर पुलिस टीम ने शुक्रवार शाम रेलवे स्टेशन स्थित वाणिज्य कर चैक पोस्ट के पास कुछ लोगों को संदिग्ध हालत में खड़े देखा। पुलिस ने जब उनसे उनका नाम एवं पता पूछा तो यह हिन्दी समझ नहीं पाये। इनमें से एक व्यक्ति जिसका नाम दीपू है, थोड़ी अंग्रेजी जानता है, उसने बताया कि हम सभी तमिलनाडु से हैं। पुलिस ने इनसे पूछताछ करने के लिये एक दुभाषिया को बुलाकर उसके माध्यम से जब पूछताछ की गयी तो जानकारी मिली कि तमिलनाडु का यही वह गिरोह है, जिसने देहरादून में कारों के शीशे तोड़कर सामान चोरी किया।

श्रीमती कुकरेती ने बताया कि गिरफ्तार टप्पेबाजों के कब्जे से चोरी किये गये बैग, लैपटाप, मोबाइल, कैमरा आदि करीब ढाई लाख रुपये का सामान बरामद किया गया हैं।

गठित टीम को तत्परता से घटनाओं का 36 घण्टे के अन्दर अंतरराज्यीय टप्पेबाज गिरोह की गिरफ्तारी एवं उनसे सामान बरामदगी करने पर एसएसपी ने ढाई हजार रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

गिरफ्तार सभी अभियुक्त तमिलनाडु के जिला तृच्ची के रहने वाले हैं। इनमें दीपू (31) पुत्र पार्थिबन निवासी 3/113 न्यू कतुर, गांधी नगर जिला तृच्ची गिरोह का सरगना है।

जबकि मितरान(46) पुत्र मोहन निवासी 76 मलाई पट्टी, अनवालगन (51) पुत्र पलमी स्वामी निवासी मलाई पट्टी, मुरली (56) पुत्र वीरा बतरान निवासी एच.बी. कालोनी मलाई पटी,उदया कुमार (47) पुत्र मुनुशमी निवासी मिल कालोनी, साक्ची बेल (35) पुत्र कृष्णन निवासी 86 मिल कालोनी, शिवा (38) पुत्र समुन्दी निवासी 3/188 न्यू कतुर पुलगनुर और उमानाथ (47) पुत्र राधाकृष्णन गिरोह के सदस्य हैं।

एसएसपी ने जानकारी दी कि यह गिरोह देश के विभिन्न स्थानों पर वाहनों के शीशे तोड़कर सामान चुराता रहा है। इससे पूर्व यह गिरोह पिछले साल राज्य में कई स्थानों पर टप्पेबाजी कर चुका है।