उत्तराखंड में भ्रष्टाचार आरोपी न्यायिक मजिस्ट्रेट अनुराधा गर्ग बर्खास्त

देहरादून। उत्तराखंड के देहरादून में भ्रष्टाचार के आरोप की जांच में दोषी पाए के बाद एक महिला न्यायिक मजिस्ट्रेट को शासन ने बर्खास्त कर दिया है। राज्य की अपर मुख्य सचिव और कार्मिक बिभाग प्रभारी आईएएस राधा रतूडी ने गुरुवार को इस सम्बंध में आदेश जारी किया।

उच्च शासकीय सूत्रों ने बताया कि वर्ष 2008 बैच की राज्य न्यायिक सेवा (पीजेएस) की अनुराधा गर्ग उधमसिंह नगर में अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट पद पर तैनात थीं।

भ्रष्टाचार के आरोपों की शिकायत के बाद वर्ष 2015 में उच्च न्यायालय (हाईकोर्ट) नैनीताल ने इस मामले की जांच कराई। जांच अधिकारी हरिद्वार जिला न्यायाधीश विवेक भारती की रिपोर्ट के आधार पर न्यायालय ने अनुराधा को बर्खास्त करने की संस्तुति राज्यपाल को भेजी थी।

राज्यपाल की मंजूरी के बाद दो दिन पहले प्रमुख सचिव कार्मिक राधा रतूड़ी की ओर से बर्खास्तगी का आदेश जारी किया गया है। राज्य बनने के 19 साल में पहली बार भ्रष्‍टाचार के मामले में न्यायिक अधिकारी को बर्खास्त किया गया है।