वाजपेयी का आचरण राजनीति से ऊपर था : वसुंधरा राजे

Vajpayee's behavior was above politics : Vasundhara Raje
Vajpayee’s behavior was above politics : Vasundhara Raje

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के आचरण को राजनीति से ऊपर बताते हुए कहा है कि उनका जीवन देश, समाज और सबके लिए अनुकरणीय है।

श्रीमती राजे राज्यपाल कल्याण सिंह की मौजूदगी में वाजपेयी की स्मृति में आज यहां महावीर पब्लिक स्कूल में आयोजित प्रार्थना सभा में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि वाजपेयी ऐसे विरले व्यक्तित्व थे, जिन्होंने राजनीति में रहते हुए हमेशा राजनीति से ऊपर उठकर आचरण किया। वह विशाल व्यक्तित्व के धनी थे।

उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए सफल परमाणु परीक्षण कर भारत की शक्ति को दुनिया भर में स्थापित किया। उन्होंने कहा कि जन-जन के प्रिय अटलजी को एक संवेदनशील प्रधानमंत्री, एक पारिवारिक सदस्य और एक विशाल व्यक्तित्व के रूप में कभी भी नहीं भुलाया जा सकता। उन्होंने  वाजपेयी को पथ प्रदर्शक बताते हुए कहा कि उन्होंने उन्हें सार्वजनिक जीवन में लोगों से स्नेह का रिश्ता बनाने की शिक्षा दी।

राजे ने कहा कि कई वर्ष पूर्व जब  वाजपेयी और  माधवराव सिंधिया ने ग्वालियर से लोकसभा का चुनाव लड़ा, तब मेरी माताजी विजयाराजे सिंधिया ने अटलजी की जीत सुनिश्चित करने के लिए अपने बेटे के खिलाफ नामांकन भरने का निर्णय लिया। इस पर  वाजपेयी ने उनको ऐसा करने से स्पष्ट मना करते हुए कहा कि वह जीत की खातिर एक मां और बेटे के बीच दीवार नहीं बन सकते।

उन्होंने कहा कि कहा कि  वाजपेयी एक ऐसे प्रधानमंत्री थे जिन्होंने देश के विकास को हमेशा प्राथमिकता दी। उन्होंने नदियों को जोड़ने की योजना बनाई और देश में टेलीकॉम क्षेत्र के विकास के लिए महत्वपूर्ण काम किए।

इस अवसर पर राजे ने वाजपेयी के चित्र पर पुष्प चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसी तरह भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट, राज्य मंत्रिपरिषद के कई सदस्य, विभिन्न धर्मों, संस्थाओं, संगठनों एवं राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने भी वाजपेयी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रृद्धांजलि दी।