कमलनाथ और दिग्विजय का सड़क पर ‘संवाद’, वीडियो वायरल

भोपाल। कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेताओं और पूर्व मुख्यमंत्रियों कमलनाथ तथा दिग्विजय सिंह के हाल ही में यहां मुख्यमंत्री निवास के समीप धरने के दौरान हुए सड़क पर बैठे हुए ‘संवाद’ का वीडियो आज सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो गया, जिसकी राजनीति के गलियारों में जमकर चर्चा हो रही है।

बीस सेकंड से अधिक समय के इस वीडियो में सिंह, कमलनाथ से यह कहते हुए सुने जा रहे हैं कि बात ये है कि हम तो डेढ़ महीने से समय मांग रहे थे। अब क्या मुख्यमंत्री से मिलने के लिए आपके थ्रू समय मांगें हम लोग। इसके जवाब में कमलनाथ कहते हुए सुने जा रहे हैं, देट इज ट्रू (यह सच है)।

यह वीडियो शुक्रवार को यहां सिंह द्वारा मुख्यमंत्री निवास के पास दिए गए धरने का है। सिंह मुख्यमंत्री से मिलने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए थे। इसी बीच कमलनाथ की स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात हुई और वे (कमलनाथ) सीधे धरनास्थल पर पहुंचे और सिंह के साथ सड़क पर ही बैठ गए। इस दौरान जो संवाद हुआ, उसे किसी व्यक्ति ने अपने कैमरे में कैद कर लिया, जो अब वायरल हो रहा है।

वीडियो में कमलनाथ कह रहे हैं कि हम तो मिले थे 4 दिन पहले। दिग्विजय साहब को बताना चाहए था। जवाब में सिंह ने कहा कि आपको बताने की जरूरत इसलिए नहीं थी, तभी कमलनाथ आसपास बैठे लोगों से कहते हैं कि ये बात मुझे नहीं बताई, 4 दिन पहले हम तो मिले थे। उसके बाद मैं छिंदवाड़ा चला गया। इसके तत्काल बाद सिंह ने कहा कि बात ये है कि हम तो डेढ़ महीने से समय मांग रहे थे। अब क्या मुख्यमंत्री से मिलने के लिए आपके थ्रू समय मांगें हम लोग।

प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने भी यह वीडियो ट्वीट करते हुए कटाक्ष किया है। उन्होंने लिखा है कि कभी कभी घर में भी मिल लिया करो। यह बातें सड़क पर क्यों??

शुक्रवार के धरने के बाद दिग्विजय सिंह को रविवार को मिलने का समय चौहान की ओर से दिया गया था। लेकिन मुलाकात के ठीक पहले पता चला कि सिंह के साथ कमलनाथ भी चौहान से मिलने उनके निवास पर पहुंचे हैं। दोनों कांग्रेस नेताओं के साथ टेम और सुठालिया परियोजना के प्रभावित कुछ किसान भी गए थे। कांग्रेस के दोनों नेताओं से जुड़े इस संपूर्ण घटनाक्रम के राजनैतिक गलियारों में अलग अलग मायने निकाले जा रहे हैं।