वाराणसी में दारोगा एवं सिपाही को खंभे में बांधकर पीटा, 27 अरेस्ट

villagers made hostage to cops in Varanasi
villagers made hostage to cops in Varanasi

वाराणसी। उत्तर प्रदेश में वाराणसी के लोहता क्षेत्र में अपहरण एवं बलात्कार के एक आरोपी को सादे पोशाक में पकड़ने गए दारोगा एवं सिपाही को लोगों ने बदमाश समझकर खंभे में बांधकर पिटाई की। इस मामले में पुलिस ने गुरुवार को 27 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बुधवार को हरपालपुर गांव में हुई इस घटना की गंभीरता को देखते पुलिस ने यह कार्रवाई की। घटना की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर तैनात कर दिया गया था।

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में प्रशिक्षु दारोगा भूपेंद्र सिंह और सिपाही पवन यादव के साथ मारपीट की घटना के बाद पुलिस ने सख्त रवैया अपनाते हुए बुधवार देर रात तक कार्रवाई की। पुलिस ने आरोपियों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी 40 से अधिक लोगों को हिरासत लिया था।

अाधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। उन्होंने लोहता थाने के प्रभारी राम कुमार सिंह को लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया है।

पुलिस दल में शामिल अन्य पुलिस कर्मियों की भूमिका की जांच की जा रही है, जो भीड़ के हमले के समय अपने साथियों एवं अधिकारी का साथ छोड़कर मौके से भाग खड़े हुए थे।

पुलिस दल प्रशिक्षु दारोगा भूपेंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस का एक दल एक नाबालिग छात्रा के अपहरण एवं उसके साथ बलात्कार के आरोपी शाहिद अंसारी को गिरफ्तार करने के लिए हरपालपुर गांव गया था।