अमरीका में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हुए हिंसक प्रदर्शन में कई अरेस्ट

वाशिंगटन। अमरीका में औरिगन के पोर्टलैंड इलाके में स्वतंत्रता दिवस के मौके हुए हिंसक प्रदर्शन के मामले में पोर्टलैंड पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया हैं।

पुलिस ने बयान जारी कर कहा कि हिंसक प्रदर्शन को लेकर 13 युवाओं को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है तथा दो को अदालत में तलब किया गया हैं। यह गिरफ्तारी चार जुलाई की शाम से लेकर पांच जुलाई की सुबह तक हुए हिंसक प्रदर्शन को लेकर की गई है।

पुलिस के अनुसार प्रदर्शनकारियों ने अमरीका का झंडा जलाया था और न्यायिक केंद्र तथा संघीय कोर्ट के बाहर पटाखे भी जलाए थे जिसके कारण कई खिड़कियां टूट गई थी तथा कई पटाखे कोर्ट की ईमारत में भी घुस गए थे।

पुलिस ने कहा कि पुलिसकर्मियों द्वारा भीड़ को हटाने के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथरबाजी की और मोर्टार के साथ ज्वलशीन पदार्थ भी उन पर फेंके। पुलिस ने अपने आपको किसी गंभीर चोट से बचाने के लिए भीड़ पर उस समय आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल भी किया। इस दौरान पुलिसकर्मियों की आँखों में लेज़र लाइट भी मारी गई जो की अपराध है।

गौरतलब है कि इससे पहले शनिवार को प्रदर्शनकारियों ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के संबोधन के बाद वाइट हॉउस के पास अमरीका का झंडा भी जलाया था।

ट्रंप ने अपने संबोधन में कट्टरपंथी वामपंथियों, अराजकतावादी को हराने का वादा करते हुए कहा था कि वह हिंसक भीड़ के खिलाड़ खड़े हैं जो अमरीका की आजादी को नष्ट करना चाहते हैं।