हम धीमी शुरूआत के ठप्पे को बदलना चाहेंगे: विराट कोहली

Virat Kohli says We would like to change slow start
Virat Kohli says We would like to change slow start

एडिलेड । कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि भारत विदेश दौरों में अपनी धीमी शुरूआत के लिये आलोचना झेलता रहा है लेकिन मौजूदा आस्ट्रेलिया दौरे में वह इस स्थिति को पूरी तरह बदलना चाहते हैं।

भारतीय कप्तान ने गुरूवार से शुरू हो रहे एडिलेड टेस्ट की पूर्व संध्या पर यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा,“ भारत की शुरूआत विदेशी दौरों में धीमी रही है और इंग्लैंड तथा दक्षिण अफ्रीका के हालिया दौरों में भी ऐसा ही रहा था। लेकिन हमारी कोशिश मौजूदा दौरे में आस्ट्रेलिया की परिस्थितियों के अनुकूल खुद को जल्द ढालकर यहां अच्छी शुरूआत करने की रहेगी।”

उन्होंने कहा,“ हम यहां हल्की फुल्की शुरूआत के बारे में नहीं सोच रहे हैं। हम सभी खिलाड़ी यहां सकारात्मक शुरूआत करना चाहते हैं और अपना खेल खुलकर दिखाना चाहते हैं। हम यहां अपना ए गेम खेलना चाहते हैं और वह भी पहले ही मैच और पहले ही दिन से जिससे आगे की सीरीज़ में भी हमें मदद मिलेगी।”

विराट ने कहा कि टीम परिस्थितियों के अनुकूल खुद काे ढालने का इंतजार नहीं कर सकती है। उन्होंने कहा,“ हम इसमें समय नहीं गंवा सकते हैं कि यहां की पिच कैसी है हमें शुरूआत से इसे समझकर अपने खेल में बदलाव करने होंगे। हम ऐसा पिछले दो दौरों में नहीं कर सके हैं। लेकिन हम जब भी ऐसा करते हैं जीतते हैं। हमें सीरीज़ जीतने के लिये आगे इन बातों को ध्यान रखना होगा। हमें खेल में निरंतरता लानी होगी।”

आस्ट्रेलियाई टीम इस बार स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी से जूझ रही है जो निलंबित हैं और इससे भी भारत को आगामी सीरीज़ में फायदा मिल सकता है। हालांकि विराट ने इससे इंकार किया। उन्होंने कहा,“ आस्ट्रेलिया जिन भी खिलाड़ियों के साथ खेलने उतरे वह कभी कमजोर नहीं है। हम उन्हें हल्के में नहीं ले सकते हैं चाहे उनके कितने ही अच्छे खिलाड़ी बाहर हों। हमें अपनी तरफ से अच्छा खेलना होगा।”

सितंबर में पीठ में चोट के कारण बाहर चल रहे ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की अनुपस्थिति को हालांकि टीम के लिये बड़ा नुकसान बताया। उन्होंने कहा,“हर टीम तेज़ गेंदबाजी ऑलराउंडर चाहती है और हार्दिक के चोटिल होने के कारण फिलहाल वह हमारे पास नहीं है। लेकिन उनकी अनुपस्थिति में बाकी खिलाड़ी स्थिति संभाल सकते हैं। हार्दिक का नहीं होना हमारे लिये नुकसान है लेकिन यह बड़ा मुद्दा नहीं है।”

विराट ने आस्ट्रेलियाई अॉफ स्पिनर नाथन लियोन को भारतीय बल्लेबाज़ों के लिये बड़ा खतरा मानने से भी इंकार किया। कप्तान ने कहा,“आखिरी बार हमने उनके खिलाफ खेला था और हमें उनके सामने सकारात्मक शुरूआत करनी होगी। वह इन परिस्थितियों में अच्छे गेंदबाज़ हैं। वह यहां की पिचें समझते हैं।”

उन्होंने कहा,“ हमें हमारा गेंदबाजी क्रम मजबूत रखना होगा। हम किसी एक खिलाड़ी को खतरा नहीं मान रहे हैं। लेकिन हम किसी को कम भी नहीं समझ रहे। हमें हमारा गेम अच्छे से खेलना है।”