विराट कोहली एशिया कप में नहीं खेलेंगे तो पाकिस्तान काे मदद मिलेगी: हसन अली

Virat Kohli will not play in Asia Cup if Pakistan will help: Hasan Ali
Virat Kohli will not play in Asia Cup if Pakistan will help: Hasan Ali

कराची । पाकिस्तानी गेंदबाज़ हसन अली का मानना है कि भारतीय स्टार खिलाड़ी एवं कप्तान विराट कोहली की एशिया कप में अनुपस्थिति से उनकी राष्ट्रीय टीम को फायदा मिलेगा।

विराट को निरंतर सीरीज़ के बोझ को ध्यान में रखकर इस महीने शुरू हो रहे एशिया कप में आराम दिया गया है और उनकी जगह रोहित शर्मा को टीम का कप्तान बनाया गया है। संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले एशिया कप में भारत और पाकिस्तान की टीमें 19 सितंबर को एक दूसरे के खिलाफ मैच खेलेंगी। इंग्लैंड में 2017 में हुई आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में दोनों चिर प्रतिद्वंद्वी टीमें एक दूसरे से भिड़ी थीं।

पाकिस्तानी गेंदबाज़ ने राष्ट्रीय शिविर के दौरान यहां पत्रकारों से शुक्रवार को कहा कि चैंपियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम को हार झेलनी पड़ी थी इसलिये एशिया कप में भी दबाव भारत पर होगा लेकिन टीम में विराट की अनुपस्थिति से भारत पर और भी दबाव पड़ेगा। उन्होंने कहा,“ विराट बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं, सभी जानते हैं कि वह मैच विजेता हैं। यदि वह टीम में नहीं भी होंगे तब भी भारत अच्छी टीम है और उनके पास कई बेहतरीन खिलाड़ी हैं।”

हसन ने कहा,“विराट के नहीं होने से निश्चित ही पाकिस्तान को फायदा होगा क्योंकि वह दबाव झेलना जानते हैं, लेकिन विराट की जगह यदि कोई अन्य खिलाड़ी खेलने आता है तो वह उतने अच्छे ढंग से नहीं खेल पाएगा। हम इस समय शीर्ष पर हैं और भारत पर पिछली हार से भी दबाव होगा।”

पाकिस्तानी क्रिकेटर ने साथ ही यूएई में एशिया कप खेलने पर खुशी जताई। पाकिस्तानी टीम अपने देश में असुरक्षित माहौल के कारण पिछले कई वर्षाें से घरेलू मैच यूएई में खेल रही है, ऐसे में उसे यहां की परिस्थतियों का भी फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा,“ यूएई की परिस्थतियां हमारी हैं, हमें यहां घरेलू फायदा मिलेगा क्योंकि हम लंबे समय से अपनी घरेलू सीरीज़ यहीं खेल रहे हैं और यहां से अच्छी तरह अवगत हैं।”

आईसीसी वनडे रैंकिंग में तीसरे नंबर के खिलाड़ी हसन के नाम 33 वनडे मैचों में 68 विकेट हैं। उन्होंने एशिया कप में अच्छे प्रदर्शन का भरोसा जताते हुये कहा,“मेरी कोशिश रहेगी कि मैं सभी 10 विकेट निका सकूं। मेरे ऊपर अच्छा करने का दबाव भी है लेकिन मुझे दबाव में अच्छा महसूस होता है क्योंकि तब मैं और बेहतर करने का प्रयास करता हूं।”

24 साल के तेज़ गेंदबाज़ को पाकिस्तानी टीम में सबसे फिट माना जाता है और इस मामले में उनकी कई बार विराट से भी तुलना की जाती है। उन्होंने इसे लेकर कहा,“ जब आप युवा होते हैं तो आपका ध्यान खुद को फिट रखने पर होता है। मैंने सभी तीनों फार्मेेट खेले हैं और जब आप तीनों तरह का क्रिकेट खेलते हैं तो इसका दबाव शरीर पर होता है। ऐसे में आपको अधिक फिट रहने की जरूरत होती है।” हसन ने कहा,“ मुझे नहीं लगता कि मेरी विराट के साथ तुलना करना ठीक है। वह मुझसे सीनियर हैं और एक महान खिलाड़ी भी हैं। मैं अपनी फिटनेस पर फोकस करता हूं क्योंकि इससे मेरे खेल में निरंतरता रहती है।”