हिमाचल कांग्रेस में घमासान : वीरभद्र ने कहा, सुक्खू को हटाओ

Virbhadra singh demands sacking of Sukhu from party posts
Virbhadra singh demands sacking of Sukhu from party posts

हमीरपुर। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस की गुटबाजी खुलकर सामने आ गई जब पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू एंड कंपनी को पद से नहीं हटाया गया तो आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी को काफी नुकसान होगा।

शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने सात महीने पहले हुए विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार के लिए भी सुक्खू को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों का चयन गलत था जिसकी वजह से पार्टी की हार हुई।

उन्होंने बताया कि वह राज्य के विभिन्न् हिस्सों में जाकर पार्टी कार्यकर्ताओं की फीडबैक ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के चंद महीनों के शासन में लोग इससे उकता चुके हैं और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने सही प्रत्याशी मैदान में उतारे तो सवाल ही नहीं है कि भाजपा को एक भी सीट मिले।

उल्लेखनीय है कि पार्टी मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल ने हाल में प्रदेश की दो दिवसीय यात्रा के दौरान माना था कि पार्टी में गुटबाजी है लेकिन सुक्खू को हटाने के बारे में उन्होंने कहा कि था कि इसका फैसला पार्टी आलाकमान ही कर सकता है, उनका कार्य विभिन्न पक्षों से बात कर अपनी रिपोर्ट दिल्ली को सौंपनी है।