1 दिसम्बर : आज से मोबाइल टैरिफ सहित बदले ये चार नियम

नई दिल्ली। इस साल के आखिरी महीने की पहली तारीख यानी 1 दिसम्बर आने के साथ ही कई वित्तीय नियमों में फेरबदल लागू हो गए हैं। इनका सीधा असर उपभोक्ता की जेब, बैंक ग्राहकों और कारोबारियों पर पड़ेगा।

एक दिसंबर से हुए वित्तीय परिवर्तन में एलआईसी, पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम और मोबाइल टैरिफ प्‍लान शा‍मिल हैं। मोबाइल फोन उपभोक्‍ताओं के लिए 1 दिसम्बर से कॉलिंग के साथ मोबाइल इंटरनेट का इस्तेमाल करना महंगा हो जाएगा। आइडिया-वोडाफोन और एयरटेल प्लान में बदलाव की पहले ही जानकारी दे चुकी है।

दिसम्बर जीवन बीमा को लेकर कई नियमों में बदलाव लाएगा। इंश्योरेंस रेगुलेटरी ऐंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (इरडा) लाइफ इंश्योरेंस सेक्टर के लिए नए नियम को एक दिसम्बर, 2019 से लागू करने जा रहा है। माना जा रहा है कि नए नियम से प्रीमियम महंगा हो सकता है, जबकि गारंटीड रिटर्न थोड़ा कम हो सकता है।

इसके अलावा लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया 1 दिसम्बर 2019 से कंपनी अपने बीमा प्लानंस और प्रपोजल फॉर्म में बड़ा बदलवाव का ऐलान किया था। इस बदलाव के तहत देश एलआईसी ने दो दर्जन से ज्यादा व्यक्तिगत बीमा पॉलिसी, आठ ग्रुप इंश्योरेंस प्लान और सात से आठ राइडर प्लान को 30 नवम्बर तक बंद करने की घोषणा की थी हालांकि, एलआईसी ने कहा कि वह भविष्य में इन पॉलिसी को इरडा के नियमों के तहत दोबारा लॉन्च करेगा।

केंद्र सरकार ने पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम की किश्त पाने के लिए आधार नंबर को लिंक कराने की अंतिम तारीख 30 नम्वबर तक तय की थी, ऐसे में किसी ने इसे लिंक करवाने में देरी की तो उसके बैंक में 6000 रुपए नहीं आएंगे। हालांकि, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, असम और मेघालय के किसानों को 31 मार्च, 2020 तक यह मौका दिया गया है।