शिव सेना, भाजपा का गठबंधन बना रहेगा : नितीन गडकरी

want bjp, Shiv Sena alliance to continue : Nitin Gadkari

मुंबई। केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने आज कहा कि भारतीय जनता पार्टी और शिव सेना का गठबंधन हिंदुत्व के मुद्दे पर था और आगे भी जारी रहेगा।

गडकरी से जब मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस के चुनावी भाषण के आडियो क्लिप के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह फडनवीस को बचपन से जानते हैं, उनका स्वभाव ऐसा नहीं है कि कुछ गलत कहें। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से पूरी ताकत के साथ चुनाव लड़ने की बात कही थी।

मतदान के दौरान खराब हुई एटीएम मशीनों के संबंध में उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग एक स्वतंत्र संस्था है, इसलिए इस संबंध में चुनाव अायोग को कड़ा कदम उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब पंजाब में जीतती है, तब मशीन सही रहती है और जब उत्तर प्रदेश में चुनाव हारती है तो मशीन खराब हो जाती है। उन्होंने कहा कि यदि ईवीएम या वीवीपैट मशीन में कोई गडबडी है तो इसे चुनाव आयोग बताए।

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों के संबंध में उन्होंने कहा कि उन्होंने भी विरोध किया है। उन्होंने कहा कि जब वह भाजपा के अध्यक्ष थे तब उन्होंने कई विरोध रैलियां निकाली थीं और आज जो कारण हैं उसी कारण से तब वह विरोध कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि ईंधन में छूट बंद कर दी गई है और विभिन्न विकास के कामों में रुपए खर्च किए गए। उनकी सरकार जैविक ईंधन, बिजली से चलने वाले वाहन को लाना चाहती है।

पेट्रोलियम मंत्रालय एथनॉल के पांच प्रमुख परियोजना की स्थापना करना चाहती है। हम भारत में पर्यावरण के अनुकूल और सस्ता ईंधन लाना चाहते हैं। एथनॉल और बिजली से चलने वाले वाहनों से ईंधन के दाम में कमी आएगी।

उन्होंने कहा कि यदि पेट्रोल और डीजल को वस्तु एवं सेवा कर के तहत लाया जाए तो दाम में कमी आ सकती है। इससे राज्यों को भी फायदा होगा। फडनवीस भी इस तरह की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि जीएसटी परिषद की बैठक में इस पर विचार किया जा सकता है।