बाड़मेर सहायक अभियंता पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते अरेस्ट

बाड़मेर। राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बाड़मेर में एक सहायक अभियंता को गुरुवार को पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया जबकि एक अन्य सहायक अभियंता मौके से फरार हो गया।

ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि परिवादी ने ब्यूरो की जोधपुर में स्थित विशेष इकाई को शिकायत की कि उसकी फर्म ने विभिन्न विकास कार्य किए हैं जिसके बिलों के भुगतान करने एवं धरोहर राशि जारी करने की एवज में धोरीमन्ना पंचायत समिति के जल ग्रहण एवं भू संरक्षण विभाग में सहायक अभियंता सोहनलाल और धनाऊ पंचायत समिति के सहायक अभियंता मानाराम उससे 10 प्रतिशत कमीशन के हिसाब से पांच लाख रुपए की रिश्वत मांग रहे हैं।

ये लोग उससे 16 लाख रुपए पहले ही वसूल चुके हैं। सोहनलाल पर गुढ़ामलानी पंचायत समिति एवं पायला कल्ला पंचायत समिति के विकास अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार भी है।

उन्होंने बताया कि ब्यूरो की जोधपुर इकाई में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दुर्ग सिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में दल ने सत्यापन के बाद जाल बिछाकर सोहनलाल को परिवादी से पांच लाख रुपए रिश्वत के लेते गिरफ्तार कर लिया, लेकिन मानाराम को कार्रवाई की भनक लग गई और वह मौके से फरार हो गया। उसकी तलाश की जा रही है। दोनों आरोपियों के निवास और अन्य ठिकानों की तलाशी ली जा रही है।