चौधरी अजित सिंह के निधन से उत्तर प्रदेश में शोक की लहर

लखनऊ। पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) मुखिया चौधरी अजित सिंह के निधन पर उत्तर प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई है। मुख्यमंत्री और कई अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने सिंह के निधन पर दुख व्यक्त करते हुये भावभीनी श्रद्धाजंलि अर्पित की है।

किसान राजनीति के जरिये उत्तर प्रदेश विशेषकर पश्चिमी अंचल में खास पहचान बनाने वाले सिंह का गुरूवार सुबह गुरूग्राम के एक अस्पताल में निधन हो गया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं जुझारू किसान नेता चौधरी अजीत सिंह जी का निधन अत्यंत दुःखद है। उन्हें विनम्र श्रद्धाजंलि। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परम धाम में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति।

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों और मजदूरों के मसीहा,पूर्व केंद्रीय मंत्री, आरएलडी प्रमुख चौधरी अजीत सिंह जी का आकस्मिक निधन, अपूरणीय क्षति। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को दुख की इस घड़ी में संबल प्रदान करे। अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि।

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया कि राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व केद्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद तथा अपने समाज के लोकप्रिय नेता चैधरी अजित सिंह के निधन की खबर अति-दुःखद। उनके परिवार व उनके समस्त चाहने वालों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। कुदरत उन सबको इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजीत सिंह जी के निधन की दुःखद खबर से स्तब्ध व आहत हूं। आपका निधन किसानों के संघर्ष व भारतीय राजनीति के लिए अपूरणीय क्षति है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति और शोकाकुल परिजनों व समर्थकों को संबल प्रदान करें। विनम्र श्रद्धांजलि।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा ​कि राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वरिष्ठ किसान नेता चौधरी अजीत सिंह जी के आकस्मिक निधन की सूचना दुःखद है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे और शोक संतृप्त परिवारजनों को इस भीषण दुख को सहने की शक्ति प्रदान करे।