रत्नाभूषण उद्योग संरक्षण के लिये राष्ट्रीय परिषद के गठन का स्वागत

रत्नाभूषण उद्योग संरक्षण के लिये राष्ट्रीय परिषद के गठन का स्वागत
रत्नाभूषण उद्योग संरक्षण के लिये राष्ट्रीय परिषद के गठन का स्वागत

जयपुर । राजस्थान जयपुर चैम्बर ऑफ काॅमर्स एण्ड इंडस्ट्री ने केन्द्र सरकार द्वारा जवाहरात उद्योग के विकास एवं संरक्षण के लिए रत्नाभूषण परिषद के गठन का स्वागत किया है।

चैम्बर के अध्यक्ष अशोक धूत एवं मानद सचिव अजय काला ने बताया कि राष्ट्रीय रत्नाभूषण परिषद का गठन करने की केन्द्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने घोषणा की है कि इसमें राज्यों एवं क्षेत्रीय संगठनों के सदस्य शामिल होंगे। जयपुर चैम्बर ने सरकार के इस कदम का स्वागत करते हुये बताया कि इससे रत्नाभूषण उद्योग के हितों की रक्षा होगी तथा उसे नई दिशा मिलेगी।

उन्होंने कहा कि जवाहरात उद्योग के विकास एवं संरक्षण के लिए रत्नाभूषण परिषद के गठन की मांग लंबे समय से की जा रही थी। वर्ष 2016-17 में देश से रत्न एवं आभूषण का निर्यात 35.47 अरब ड़ालर का था वहीं वर्ष 2017-18 में यह 41 अरब ड़ालर रहा। जयपुर से वर्ष 2016-17 में यह 4168.91 करोड़ और वर्ष 2017-18 में 3866.89 करोड़ रूपयों का निर्यात हुआ। उल्लेखनीय है कि देश के निर्यात में रत्न एवं रत्नाभूषण उद्योग की 15 प्रतिशत भागीदारी है और सकल घरेलू उत्पाद में रत्न आभूषण का 7 प्रतिशत योगदान है।