पश्चिम बंगाल: नदिया में सड़क दुर्घटना में 5 महिलाओं सहित 18 की मौत

शांतिपुर। पश्चिम बंगाल के नदिया जिले में रविवार तड़के एक भयानक सड़क दुर्घटना में पांच महिलाओं और एक बच्ची सहित कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई है। एक मिनी ट्रक में सवार ये सभी लोग एक शव को लेकर श्मशान जा रहे थे, तभी बीच रास्ते अनियंत्रित होकर इनकी गाड़ी सड़क पर खड़ी एक ट्रक से टकरा गई।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राज्य के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है। यह राज्य में हाल के दिनों में हुए सबसे भीषण हादसों में से एक है।

पुलिस और चश्मदीदों के मुताबिक, हादसा नदिया के फूलबाड़ी के हांसखाली प्रखंड में शनिवार-रविवार की दरमियानी रात करीब पौने दो बजे उस समय हुआ, जब ट्रक में सवार शोक संतप्त परिवार के सदस्य नवद्वीप श्मशान घाट की ओर जा रहे थे और तभी इनकी गाड़ी स्टेट हाईवे पर खड़े एक ट्रक से टकरा गई।

हादसे में 13 लोगों की मौत मौके पर ही हो गई थी, जबकि पांच अन्य ने स्थानीय अस्पताल में दम तोड़ दिया। मरने वालों में दस पुरुष, पांच महिलाएं और एक छह साल की बच्ची शामिल हैं।

पुलिस के मुताबिक, दुर्घटना में घायल हुए पांच अन्य को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मरने वालों में ड्राइवर और उसका हेल्पर भी शामिल हैं। पुलिस ने बताया है कि यह मिनी ट्रक उत्तरी 24 परगना के बागदाह से रवाना हुआ था। इसमें करीब 40 लोग वृद्धा (श्रावणी मुहुरी) के दाह संस्कार के लिए जा रहे थे।

गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा है कि नदिया में हुआ हादसा और लोगों की मौत बेहद चौंकाने वाली और दुखद है। शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। धनखड़ ने कहा कि नदिया जिले में हुए हादसे में 18 लोगों की मौत और 5 अन्य लोगों के घायल होने की खबर से बेहद दुखी हूं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि नदिया में हुए सड़क हादसे के बारे में सुनकर दिल दुखा है। मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करती हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं। बनर्जी ने कहा कि सरकार पीड़ितों के परिजनों को हर आवश्यक सहायता प्रदान करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुख की इस घड़ी में हम सभी आपके साथ हैं।