भाजपा का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया : अशोक गहलोत

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) के चार राज्यसभा सांसदों को अपनी पार्टी में शामिल करना सही और कांग्रेस में इस तरह करना गलत मान रही हैं तो भाजपा का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया।

गहलोत ने आज सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि भाजपा ने टीडीपी के चार सांसदों को राज्यसभा के अंदर रातों रात मर्जर करवा दिया, वो मर्जर तो सही है और राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी के छह विधायक कांग्रेस में मर्जर कर गए, यह मर्जर गलत है, तो फिर भाजपा का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया।

उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं, राज्यसभा में मर्जर हो वो सही है और यहां मर्जर हो वो गलत है। उन्होंने बसपा अध्यक्ष मायावती का नाम लिए बिना कहा कि बहनजी को भाजपा ने आगे कर रखा है और उन्हीं के इशारे पर वो बयानबाजी कर रही हैं।

भाजपा जिस प्रकार से सीबीआई, ईडी एवं इनकम टैक्स का दुरुपयोग कर रही है, सबको ही डरा रही है, धमका रही है, राजस्थान में क्या हो रहा है, सबको मालूम है, ऐसा तमाशा कभी देखा नहीं। वह उनसे डर रही हैं और मजबूरी में बयान दे रही हैं।

उल्लेखनीय है कि राज्यसभा के टीडीपी सांसद वाईएस चौधरी, सीएम रमेश, टीजी वेंकटेश और जीएम राव पिछले दिनों भाजपा में शामिल हो गये। इससे पहले गत वर्ष राजस्थान में बसपा के छह विधायक राजेंद्र गुढा, वाजिब अली, जोगिंदर अवाना, संदीप यादव, दीपचंद खेरिया एवं लाखन सिंह कांग्रेस में शामिल हो गए थे।