मार्च में थोक महंगाई घटकर 2.47 प्रतिशत पर

Wholesale inflation eases marginally at 2.47 percent in March
Wholesale inflation eases marginally at 2.47 percent in March

नई दिल्ली। मौजूदा वर्ष के मार्च में थोक मूल्य मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की दर घटकर 2.47 प्रतिशत दर्ज की गई है जबकि इससे पिछले वर्ष के इसी माह में यह आंकडा 5.11 प्रतिशत रहा था।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के आज यहां जारी आंकडों के अनुसार फरवरी 2018 में थोक मूल्यों पर आधारित मंहगाई की दर 2.48 प्रतिशत रही थी। वित्त वर्ष 2017-18 में थोक मुद्रास्फीति की बिल्ड अप दर 2.47 प्रतिशत थी जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष में यह आंकडा 5.11 प्रतिशत दर्ज किया गया था।

प्राथमिक वस्तुओं के समूह में मार्च 2018 के दौरान खाद्य वस्तु वर्ग में 0.4 प्रतिशत की कमी अायी है। इस वर्ग की कीमतों में अंडा पांच प्रतिशत, चना, चाय, कॉफी, मुर्गा मांस, मसाले तीन – तीन प्रतिशत, राजमा दो प्रतिशत तथा मछली, मसूर, बाजरा, फल एवं सब्जी और भैंस के मांस में एक-एक प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। हालांकि वर्ग में रागी तीन प्रतिशत, ज्वार एवं समुद्री मछली दो प्रतिशत, मूंग, पान पत्ता, गेंहू, धान और सूअर का मांस एक प्रतिशत महंगा हुआ है।

गैर खाद्य वस्तु वर्ग 0.3 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। इस वर्ग में तिल छह प्रतिशत, कच्चा कपास, बिनौला, कच्ची खाल, नारियल दो प्रतिशत, अरंडी, कच्चा जूट मूंगफली, सरसों एक – एक प्रतिशत गिरे हैं। इसी वर्ग में कच्चा सिल्क सात प्रतिशत, सूरजमुखी चार प्रतिशत, सोयाबीन तीन प्रतिशत, चारा दो प्रतिशत, कच्चा ऊन, नारियल रेशा और कच्चा रबड के दाम एक प्रतिशत बढ़े हैं।

आंकडों के अनुसार खनिज समूह में 2.0 प्रतिशत और कच्चा तेल एवं प्राकृतिक गैस समूह में 0.5 प्रतिशत, तंबाकू उत्पाद में 0.4 प्रतिशत, परिधान वर्ग में 0.9 प्रतिशत और चमडा एवं संंबंधित वर्ग में 0.9 प्रतिशत की गिरावट आयी है। विनिर्माण समूह की वस्तुओं की कीमतों में 0.4 प्रतिशत, कपडा वर्ग में 0.4 प्रतिशत और काष्ठ वर्ग में 0.6 प्रतिशत का इजाफा दर्ज किया गया है।