बैठक से रूडिप नदारद, नाराज हुए मंत्री और विधायक

सिरोही में डीएलओ की बैठक लेते प्रभारी मंत्री प्रमोद जैन भाया।
सिरोही में डीएलओ की बैठक लेते प्रभारी मंत्री प्रमोद जैन भाया।

सबगुरु न्यूज-सिरोही। खान एवं गोपालन मंत्री तथा सिरोही जिले के प्रभारी मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया ने अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान कुछ विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद नहीं थे। इसे लेकर जब सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने नाराजगी जताई तो प्रभारी मंत्री ने अगली बार उनकी बैठक में सभी डीएलओ की तैयारी के साथ उपस्थिति की हिदायत दी।

सिरोही कृषि विस्तार आत्मा परियोजना के सभागार में हुई इस बैठक में प्रभारी मंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप आमजन को लाभान्वित करना सुनिश्चित करें तथा विभागीय अधिकारी फ्लैगशिप योजनाओं की प्रभावी मॉनिटरिंग करते हुए योजनाबद्ध तरीके से कार्य करें।
उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना के तहत अधिक से अधिक श्रमिकों का नियोजन कर उन्हे रोजगार के अवसर प्रदान करे। प्रभारी मंत्री ने बजट घोषणा वर्ष 2019-20 व 2020-21 में की गई घोषणाओं में विभाग द्वारा की गई क्रियान्विति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि मुख्यमंत्री बजट घोषणा में शिथिलता न बरते और घोषणा अनुरूप समस्त कार्यों कि क्रियान्वित समय पर सुनिश्चित करें।
प्रभारी मंत्री ने निरोगी राजस्थान योजना के संदर्भ में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से जानकारी लेकर प्रभावी क्रियान्वयन सतत रूप से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कोरोना काल में जिला प्रशासन द्वारा किए गए उल्लेखनीय कार्यों की प्रशंसा की। मंत्री ने सिलिकोसिस बीमारी से पिडि़तों की जानकारी लेकर रोकथाम हेतु प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए। बैठक में अर्बुदा गौशाला के व्यवस्थित रखरखाव के लिए प्रयास करने हेतु निर्देश दिए।
बैठक में विधायक संयम लोढ़ा ने आबूपर्वत वन्य जीव क्षैत्र होने के उपरान्त भी रूडिप द्वारा बिना अनुमति के ब्लास्टिंग द्वारा तोडी गई चट्टानों को गंभीरता से लेते हुए इस पर रोकथाम एवं आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। बैठक में इसके लिए एडीएम को प्रकरण की जांच सौंपने के निर्देश भी दिए गए।
पालड़ी थाना अन्तर्गत बजरी चोरी के संदर्भ में धारा 379 आईपीसी के तहत दर्ज किए मामलों को उचित नही बताते हुए खनिज विभाग को प्रकरण बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उचित मूल्य के दूकानदारों को ई-मित्र खोले जाने के संदर्भ में व्यापक प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए। जिला चिकित्सालय पर बंद पड़े आईसीयू केन्द्र को जल्द से जल्द प्रारम्भ करने के निर्देश दिए जाने पर प्रमुख चिकित्सा अधिकारी द्वारा कल से ही शुरू करने को कहा।
जल संसाधान विभाग के अधिकारियों को विधायक लोढ़ा ने बजट घोषनान्तर्गत विगत वर्षों में क्षतिग्रस्त सरचनाओं की जानकारी लेकर उचित कार्यवाही के निर्देश दिए। मनरेगा योजनान्तर्गत रिक्त पदों की पूर्ति करने के निर्देश दिए गए साथ ही भाकर क्षेत्र में नेटवर्क से वंचित क्षेत्रों में बंद पड़े ई-मित्रों को पुन: शुरू करवाने के निर्देश दिए। श्रम विभाग को ग्रामीण क्षेत्रों के अंशदान प्राप्त नही होने से अंशदान वसूली के निर्देश दिए ताकि श्रमिकों को लाभान्वित किया जा सके।
रेवदर विधायक जगसीराम कोली ने प्रभारी मंत्री को मंडार व रेवदर एम्बूलेंस बंद होने, चिकित्सकों के पद भरने एवं माटासन में दो वर्ष लंबित जीएसएस प्रारम्भ करवाने का अनुरोध किया। विधायक कोली ने कामधेनु योजना के तहत बैंक गारंटी के अभाव में ग्रामीणों को लाभान्विंत नहीं होने के बारे में जानकारी देकर प्रभावी कार्यवाही करने का अनुरोध किया।
बैठक में प्रभारी सचिव पी.सी. किशन ने विभिन्न विभागों में संचालित योजनाओं की प्रगति की जानकारी लेकर अधिकारियों को प्रभावी क्रियान्विती के निर्देश दिए, बजट घोषणा अन्तर्गत स्वीकृत कार्यों की प्रभावी मोनिटरिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को सतत रूप से भ्रमण कर कार्यों की गुणवत्ता बनाए रखने के निर्देश दिए।
बैठक में जिला कलक्टर भगवती प्रसाद ने जिले में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना, मुख्यमंत्री नि:शुल्क जांच योजना, स्वास्थ्य बीमा योजना, खाद्य सुरक्षा योजना, कोविड-19 तथा वैक्सीनेशन की प्रगति एवं भावी कार्य योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।
अतिरिक्त जिला कलक्टर गितेश श्रीमालवीय ने पॉवर पोइंट प्रजेन्टेंशन के माध्यम से जिले की प्रगति से अवगत कराया।
बैठक में पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष टॉक, मुख्य कार्यकारी अधिकारी भागीरथ विश्नोई, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी कालूराम खोड, सिरोही उपखंड अधिकारी हसमुख कुमार सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।