आपका भी बार-बार होता है फेसबुक अकाउंट हैक ?

क्या आपका फेसबुक अकाउंट बार-बार हैक हो जाता है, और आप अपने फेसबुक अकाउंट हैक होने से काफी ज्यादा परेशान हैं तो आज का यह अपडेट आपके लिए काम का साबित होने वाला है।

why my facebook account hacked solution hindi
why my facebook account hacked solution hindi

अक्सर आप में से कई लोगों के साथ ऐसा होता है कि आपका फेसबुक अकाउंट हैक हो जाता है और यह केवल एक बार नहीं बल्कि बार-बार है होता है इसके चलते आपको कई मुसीबतों का सामना करना पड़ता है कई बार आप अपने डेटा से भी हाथ धो बैठते हैं। और कई बार हैकर आपकी प्रोफाइल से कुछ अभद्र टिप्पणी भी आपके पोस्ट द्वारा कर देता है और अकाउंट की रिकवरी के बाद भी कुछ समय बाद आपका अकाउंट फिर हैक हो जाता है। आखिर ऐसा क्यों होता है और यह आप ही के साथ बार-बार क्यों होता है।

फेसबुक अकाउंट का हैक होना आपकी पासवर्ड की कमजोरी या आपकी लापरवाही भी हो सकती है आमतौर पर फेसबुक अकाउंट का हैक होना आपकी लापरवाही ही होती है। कई बार यदि आपका पासवर्ड स्पेशल कैरेक्टर के साथ लिखा हुआ नहीं है तो आपका अकाउंट आसानी से हो हैक हो जाता है।

अधिकांश तौर पर कई लोग अपना फेसबुक अकाउंट का पासवर्ड अपना मोबाइल नंबर ही रख लेते हैं और यह वह इसलिए करते हैं ताकि उन्हें पासवर्ड याद रह सके ऐसा करना उनके लिए तो आसानी हो सकता है लेकिन साथ ही में ही हैकर के लिए भी आपके अकाउंट तक पहुंचना बहुत ही आसान हो जाता है।

क्योंकि कई बार आपका मोबाइल नंबर आपके फेसबुक के अबाउट सेक्शन में लिखा होता है जिसे आपने पब्लिक कर रखा होता है अटैकर कर जो भी होता है वह पहले ऐसी प्रोफाइल को टटोलता है जिनकी प्रोफाइल पब्लिक रुप से मौजूद हो और साथ में ऐसी प्रोफाइल ने अपना मोबाइल नंबर भी सीधे तौर पर लिखा हो ऐसा करने से अटैकर को सीधा आपके पासवर्ड का भी पता चल जाता है और कई बार ऐसा भी होता है कि आपने अपना पासवर्ड कुछ और भी कर रखा हो लेकिन तभी आपका फेसबुक अकाउंट हैक हो जाता है और आप पता नहीं लगा पाते कि आपके साथ ऐसा क्यों हुआ और कब हुआ।

ऐसा इसलिए भी होता है क्योंकि कभी-कबार आपके ईमेल पर या आपके फेसबुक मैसेंजर पर किसी प्रकार के लिंक आते हैं जिसमें आपको यह दर्शाया जाता है कि आपके फेसबुक संबंधित कोई आवश्यक सामग्री की आपको सबमिट करनी है इसके चलते आपको फेसबुक में दोबारा से लॉगिन भी करना पड़ता है लेकिन यह लापरवाही आपके अकाउंट को खतरे में डाल सकते है।

क्योंकि कई बार इस तरह की गतिविधि हैकर द्वारा भी की जाती है जिसे हैकिंग की भाषा में फिशिंग कहा जाता है जी हां फिशिंग का मतलब बिल्कुल वही है जैसे कि मछली को फसाने के लिए कांटे में दाना डाला जाता है और मछली कांटे में फंस जाती है उसी प्रकार आपको कई प्रकार के लिंक भेज कर आप के अकाउंट का पासवर्ड निकाला जाता है यह प्रक्रिया एक बार में ही कारगर नहीं होती बल्कि जो भी हैकर होते हैं वह एक अकाउंट पर कभी इस तरह की चीज नहीं करते बल्कि हजारों लाखों अकाउंट पर इस तरह की गतिविधि करते हैं ताकि उनमें से कुछ अकाउंट तो उनके कब्जे में आ जाए इसके बाद वह उन अकाउंट से अपनी मनमानी करते हैं।

कई बार तो ऐसा भी होता है कि आपको पता ही नहीं होता कि आपका अकाउंट कोई और ऑपरेट कर रहा है और आप निश्चिंत होकर अपना फेसबुक चलाते हैं हालांकि इसके लिए आप कई प्रकार की सावधानियां बरत सकते हैं जितना हो सके अपने फेसबुक अकाउंट में हमेशा टू वे वेरीफिकेशन या ऑथेंटिकेशन की सेटिंग ऑन करके रखें यह आपको सेटिंग्स में जाकर सिक्योरिटी वाले ऑप्शन में मिल जाएगी जहां से आप अपना पासवर्ड के साथ ओटीपी द्वारा भी लॉगिन सेट कर सकते हैं।

इसके बाद आपको जब भी अपना फेसबुक अकाउंट लॉगइन करना होगा तो उसके लिए किसी प्रकार का ऑप्शन या ओटीपी सबमिट करना होगा यह एक बहुत ही अच्छा उपाय है जिससे आपका फेसबुक पेज या अकाउंट सिक्योर हो सकता है।

लेकिन यदि बात की जाए हैकिंग अटैक की तो आपने सुना होगा बड़े-बड़े नामी-गिरामी सेलिब्रिटी का अकाउंट भी हैक हो जाता है। यह कहीं ना कहीं यह फेसबुक की कमजोरी है या यूजर की लापरवाही है लेकिन फिर भी इसे जितना बचा जाए उतना अच्छा है कोशिश यही करें कि आप अपने अकाउंट की पूरी सुरक्षा करें।