पत्नी को फंदे से लटका देख पति ने भी खुद को गोली मारकर दी जान

भिण्ड। मध्यप्रदेश के भिण्ड जिले के मेहगांव में गुरुवार को एक नवविवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसे फांसी पर लटका देख पति ने भी गोली मारकर खुदकुशी कर ली। दो महीने पहले ही उनकी शादी हुई थी। पुलिस को मामला संदिग्ध लग रहा है।

मेहगांव के वार्ड 1 ग्वालियर रोड निवासी श्यामू शर्मा की शादी विगत 18 अप्रेल को भिण्ड के वार्ड 22 की निवासी दीक्षा शर्मा से हुई थी। परिजन के अनुसार श्यामू और दीक्षा कल रात मकान की दूसरी मंजिल में अपने कमरे में सोने चले गए।

सुबह जब दीक्षा जागकर नीचे नहीं पहुंची, तो उसकी ननद उमा शर्मा सुबह करीब 7 बजे श्यामू के बेडरूम में पहुंची। वहां श्यामू सो रहे थे, लेकिन दीक्षा नहीं थी। उमा उसी मंजिल के दूसरे कमरे में पहुंची तो दीक्षा फांसी पर लटकी हुई थी।

श्यामू ने दीक्षा को फांसी पर लटका देखा तो सीधे उठकर घर के तीसरी मंजिल के कमरे में पहुंचा और अंदर से गेट बंद कर 315 बोर के कट्टे से सिर में गोली मार ली। परिजन के अनुसार गेट तोड़ा तो अंदर श्यामू खून से लथपथ पड़ा था।

पुलिस ने भिण्ड से एफएसएल अधिकारी डॉ पी अजय सोनी को बुलवाकर जांच कराई है। कट्टे को जब्ती में लिया है। दोनों के शव का मेडीकल परीक्षण कराकर परिजनों को सौंप दिया गया है। आत्महत्या की सूचना मिलने पर दीक्षा के पिता रामदास शर्मा परिजन के साथ मेहगांव पहुंचे।

पिता ने आरोप लगाया कि ननद उमा शर्मा और जेठानी वर्षा शर्मा दोनों दीक्षा को परेशान करते थे। इसी सोमवार को दीक्षा भिण्ड से ससुराल आई है। उसने आते समय कहा था अभी ननद घर पर है, तो उसे वहां नहीं भेजें, उसके साथ घटना हो सकती है।

दीक्षा के ससुर वीरेंद्र शर्मा वेटनरी कंपाउंडर हैं। जेठ रामू हाल में पुलिस में भर्ती हुआ है, लेकिन ट्रेनिंग नहीं हुई है। एफएसएल अधिकारी डॉ सोनी ने बताया कि घटनास्थल के निरीक्षण में मामला संदिग्ध लग रहा है। मृतका के कपड़े भी अस्त व्यस्त मिले हैं। युवक की मौत गोली से हुई है, लेकिन यह जांच का विषय है कि गोली उसने खुद मारी है या किसी ओर ने चलाई है।

मेहगांव थाने के नगर निरीक्षक मनोज राजपूत ने बताया कि पुलिस पहुंची तो श्यामू को जिस कमरे में आत्महत्या करना बताया जा रहा है, उसके गेट खुले मिले हैं। मामले की जांच की जा रही है। जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उसके मुताबिक कार्रवाई करेंगे।