अपराध मुक्त, रोजगार युक्त किशनगढ़ बनाएंगे : विकास चौधरी

अजमेर/किशनगढ। किशनगढ़ विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी बनाए गए विकास चौधरी ने मंगलवार को कहा कि हम अपराध मुक्त और रोजगार युक्त किशनगढ़ बनाएंगे, यह हमारा प्रथम लक्ष्य रहेगा।

विकास ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी 36 कौमों को साथ लेकर इस चुनाव में उतरी है। हम विकास के मुद्दे पर किशनगढ़ विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। बीते 5 सालों में भाजपा की केंद्र सरकार व राज्य सरकार ने किशनगढ़ विधानसभा में ग्रामीण गौरव पथ, किसानों का कर्जा माफी, हॉस्पिटल का विकास आदि कार्य कर जनता का दिल जीता है।

प्रधानमंत्री मोदी का विजन रहा है कि अब राजनीतिक क्षेत्र में युवा आगे आएं, इसी विजन के आधार पर मुझे किशनगढ़ विधानसभा का टिकट मिला है। किशनगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ लोगों के अनुभव और आशीर्वाद के साथ में युवाओं की टीम को लेकर मैदान में उतरेंगे।

चौधरी ने टिकट के अन्य दावेदारों के साथ तालमेल बैठाकर चलने के संकेत देते हुए कहा कि किशनगढ़ में मार्बल एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेश टांक ने मार्बल एसोसिएशन के माध्यम से अनेकों विकास कार्य करवाए हैं। मार्बल एरिया की सड़कों का डामरीकरण, मजदूरों के स्वास्थ्य, मजदूरों के घर परिवार की व्यक्तिगत समस्याओं के निवारण में भी उनका सहयोग रहा। किशनगढ़ विधायक भागीरथ चौधरी मेरे पिता तुल्य है उनका आशीर्वाद मुझे प्राप्त है। उनके आशीर्वाद से ही हम इस चुनाव को जीतेंगे।

चौधरी ने बीते पांच साल के दौरान छात्र हितों को लेकर किए गए प्रयासों की भी जानकारी दी और कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने मुझ जैसे गरीब कार्यकर्ता को टिकट दिया, इसके लिए प्रदेश व केंद्रीय नेतृत्व का आभारी हूं।

चुनावी समर में कांग्रेस से मुकाबले को उन्होंने सहजता से लेते हुए कहा कि पूरे देश में कांग्रेस का सफ़ाया हो रहा है, यह क्रम किशनगढ़ में भी बरकरार रहेगा। किशनगढ़ इस बार भी कांग्रेस रहित होगा।

इस अवसर पर पूर्व विधायक जगजीत सिंह, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष मांगीलाल अग्रवाल, किशनगढ़ नगर परिषद के चैयरमैन सीताराम साहू, उप सभापति राजू बाहेती, कमलेश कुमारी पूर्व प्रधान सिलोरा पंचायत समिति, पार्षद सविता गुप्ता, अनिल राव, मनोहर तारणी, मोहित जैन, गोपाल काबरा, कल्याण मल, महेंद्र टांडी, विक्रम गुर्जर, हरिराम चौधरी, अरविंद सिंह राजपुरोहित, गिरधारी चौधरी, गिरधारी चोयल, सहित भाजपा नेता उपस्थित रहे।