हनुमानगढ़ में महिला प्रिंसिपल दस हजार रुपए की रिश्वत लेते अरेस्ट

हनुमानगढ़। राजस्थान में हनुमानगढ़ में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने आज दोपहर एक प्राइवेट बीएसटीसी कॉलेज की प्रिंसिपल को दो विद्यार्थियों से 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

हनुमानगढ़ में एसीबी चौकी में सीआई सुभाषचंद्र ने बताया कि स्वामी विवेकानंद एलिमेंट्री टीचर एजुकेशन, शेरगढ़ की प्रिंसिपल डॉ प्रीतमकौर (38) निवासी पंजाबी मोहल्ला हनुमानगढ़ टाउन को आज दोपहर उसके कॉलेज के कार्यालय में ही रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया।

हनुमानगढ़ जिले में नोहर तहसील क्षेत्र के गांव फेफाना निवासी दिनेश जाट (23) और उसकी सहपाठी पूनम स्वामी ने छह अगस्त को एसीबी को शिकायत की थी कि उन्होंने स्वामी विवेकानंद एलिमेंट्री टीचर एजुकेशन संस्थान में बीएसटीसी के द्वितीय वर्ष की सारी फीस जमा करवा कर रसीद प्राप्त कर रखी है, लेकिन प्रिंसिपल डॉ प्रीतमकौर रिसीविंग लेटर इंटर्नशिप के लिए अतिरिक्त शुल्क के रूप में 8-8 हजार रुपए की मांग कर रही हैं।

उन्होंने बताया कि शिकायत के सत्यापन के दौरान प्रिंसिपल दोनों विद्यार्थियों से कुल 10 हजार रुपए लेने पर सहमत हो गई। इस पर ब्यूरो ने जाल बिछाकर दोपहर में प्रीतम कौर को परिवादी दिनेश जाट से 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। प्रीतम कौर को कल श्रीगंगानगर में एसीबी की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि ब्यूरो की जांच के दायरे में कॉलेज की प्रबंधन समिति भी है। बताया जा रहा है कि अन्य विद्यार्थियों से भी इसी तरह रिश्वत मांगी गयी है, ब्यूरो इसकी जांच कर रही है।